Friday , February 23 2024
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / एशिया का दूसरा सबसे ऊंचा रांसी स्टेडियम नए रूप में हो रहा विकसित, मिलेंगी ये सुविधाएं, निखरेंगे खिलाड़ी

एशिया का दूसरा सबसे ऊंचा रांसी स्टेडियम नए रूप में हो रहा विकसित, मिलेंगी ये सुविधाएं, निखरेंगे खिलाड़ी

पौड़ी गढ़वाल। समुंद्र स्तर से 7000 फीट की ऊंचाई पर स्थित रांसी स्टेडियम एशिया में दूसरे स्थान पर आने वाले स्थानों में सबसे ऊंचे स्थित मैदानों में से एक है। इस स्टेडियम का नाम पौड़ी जिले के (महावीर चक्र) से सम्मानित शहीद राइफलमैन जसवंत सिंह के नाम पर रखा गया है। एशिया के दूसरे सबसे ऊंचाई पर स्थित रांसी स्टेडियम को हाई एल्टीट्यूड सेंटर के रूप में विकसित करने की कवायद जारी है। करीब 22.29 करोड़ रुपए की लागत से स्टेडियम को विकसित किया जा रहा है।

स्टेडियम के कार्यों का 85 प्रतिशत हिस्सा पूरा हो चुका है। मैदान में बहुउद्देशीय खेलों का आयोजन करने के लिए कैफेटेरिया तैयार किया गया है, और एक 32 बेड का हॉस्टल भी तैयार है। केवल जिम के सामान को स्थापित करने का काम शेष है। साथ ही, स्टेडियम में सिंथेटिक ट्रैक का कार्य भी 80 प्रतिशत से अधिक पूरा हो चुका है। हालांकि बारिश के कारण आगे की प्रगति में रुकावट हो रहा है, लेकिन जल्द ही शेष कार्यों को भी पूरा किया जाएगा. साथ ही खिलाड़ियों के सपनों को भी नई उड़ान मिल सकेगी। इसके अलावा स्टेडियम पर्यटन को भी बढ़ावा दे सकेगा।

जिला क्रीड़ा अधिकारी श्री अनूप बिष्ट ने बताया कि इस हाई एल्टीट्यूड सेंटर के विकास के बाद, सहनशीलता वाले खेलों (एन्ड्योरेंस गेम्स) को काफी मदद मिलेगी। इसके साथ ही, 2024 में आयोजित होने वाले नेशनल गेम्स के लिए यहां एक उत्कृष्ट प्लेटफ़ॉर्म तैयार होगा। यह स्थानीय युवाओं के लिए एक बेहतर तैयारी स्थल बनाने के साथ-साथ उन्हें देश के लिए स्वर्ण पदक जीतने का भी अवसर प्रदान करेगा।

About team HNI

Check Also

सेना में अग्निवीर भर्ती के लिए आवेदन शुरू, पद नाम और चयन प्रक्रिया बदली, जानिए

Agniveer Bharti 2024 : भारतीय सेना में अग्निवीर भर्ती 2014 के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया …

Leave a Reply