नोटबंदी को 50 दिन पूरे हो चुके हैं। ऐसे में बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी साल खत्म होने से पहले देश को संबोधित कर सकते हैं। खबरों के मुताबिक वह 31 दिसंबर की शाम साढ़े सात बजे देश को संबोधित करेंगे। माना जा रहा है कि पीएम इस संबोधन के दौरान कुछ बड़े ऐलान भी कर सकते हैं।

पीएम ने हालात सामान्य होने के लिए जनता से 50 दिन का वक्त मांगा था, जो की अब पूरा हो चुका है। पीएम नोटबंदी से हुई आम जनता को परेशानी के मरहम के तौर पर कुछ बड़े ऐलान कर सकते हैं। इनमें किसानों के लिए कर्ज माफी जैसा विकल्प भी शामिल है।

31 दिसंबर को ये ऐलान कर सकते हैं पीएम मोदी

पीएमओ ने ऐग्रिकल्चर और पेट्रोलियम मिनिस्ट्री से किसानों के कर्ज की ताजा स्थिति और उज्जवला योजना पर रिपोर्ट मांगी थी। इससे संकेत मिले कि इन दो सेक्टर्स में भी राहत की बड़ी घोषणा की जा सकती है।

किसानों की कर्ज माफी की मांग कई राज्यों से पहले ही आ रही है, लेकिन इस घोषणा से पहले वित्त मंत्रालय से भी संपर्क किया जाएगा।

उज्जवला योजना के बारे में केंद्र सरकार की मंशा है कि एलपीजी कनेक्शन के साथ अगले दो साल तक फ्री गैस देने की घोषणा कर दी जाए।

नोटबंदी के रिटर्न गिफ्ट के रूप में एक करोड़ छात्रों को स्कॉलरशिप की पेशकश की जा सकती है।

सस्ते घर बनाने के लिए मुफ्त राशि के साथ ब्याज रहित लोन की संभावना पर भी विचार किया जा रहा है।

चुनाव के मद्देनगर होंगे फैसले

2017 में देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। नोटबंदी से आम जनता को हुआ दिक्कतों की वजह से बीजेपी को नुकसान हो सकता है, जिसको ध्यान में रखते हुए पीएम मोदी अहम फैसले ले सकते हैं। जिससे एक बार फिर से जनता के दिल को जीता जा सके। विपक्ष भी लगातार नोटबंदी पर जनता की परेशानी को चुनावी मुद्दा बना रहा है।