प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के लिए भीड़ जुटाने में भी भाजपा नेताओं ने धोखाधड़ी और घोटाला किया है। लखनऊ रैली में पहुंचे किराए के लोगों को भाजपा नेताओं ने 400-400 रुपये देने का वादा किया था।

लेकिन रैली के बाद इन लोगों को केवल 100-100 रुपये दिए गए। जिसके बाद लोगों ने कैमरे पर आकर भाजपा नेताओं की खूब फजीहत की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में भीड़ जुटाने के लिए लोगों को किराए पर लाया जाता है, यह आरोप लगता रहा है। कुछ दिन पहले कांग्रेस के नेता आनंद शर्मा ने बाकायदा प्रेस कांफ्रेंस करके यह आरोप लगाया था।केंद्र सरकार का घटक दल शिव सेना भी ऐसे आरोप भाजपा पर लगा चुकी है।