उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी (सपा) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने शुक्रवार को कहा कि पहले वह अपने भाई शिवपाल यादव के लिए प्रचार करेंगे, उसके बाद बेटे अखिलेश यादव का नंबर आएगा।

उन्होंने कहा कि वह पहले जसवंतनगर से शिवपाल यादव के लिए प्रचार करेंगे। मुलायम सिंह यादव ने मीडिया से बातचीत में कहा, “मैं नौ फरवरी से शिवपाल यादव के लिए जसवंतनगर सीट से चुनाव प्रचार करूंगा। इसके बाद अखिलेश यादव के लिए प्रचार होगा।”

मुलायम सिंह ने बीते दिनों दिल्ली में पार्टी कार्यकर्ताओं से कांग्रेस उम्मीदवारों के खिलाफ नामांकन करने को कहा था। उन्होंने कहा था कि जिन 105 सीटों पर कांग्रेस उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं, वहां सपा कार्यकर्ता नामांकन करें।

सपा-कांग्रेस गठबंधन पर नाराजगी जताते हुए उन्होंने कहा था कि समाजवादी पार्टी यूपी में अकेले दम पर चुनाव जीतने में सक्षम है। ऐसे में पार्टी को किसी के साथ गठबंधन की कोई जरूरत नहीं थी।

हालांकि, इसके चंद दिनों बाद ही मुलायम ने अखिलेश को आशीर्वाद भी दिया। उन्होंने कहा, “अखिलेश को मेरा आशीर्वाद है। मैं नौ फरवरी से चुनाव प्रचार शुरू करूंगा।”सपा के उम्मीदवार शिवपाल चुनाव के बाद नई पार्टी बनाने का ऐलान भी कर चुके हैं।