सुल्तानपुर से मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज चुनावी अभियान की शुरुआत की. माना जा रहा है कि किसी ज्योतिषी के बताने के बाद ही अखिलेश यादव ने शुरुआत के लिए सुल्तानपुर को चुना. यहां 27 फ़रवरी को चुनाव की तारीख तय है. कांग्रेस के साथ गठबंधन तय होने के बाद समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र सरकार के बजट में हमारे द्वारा किए गए कामों की नकल ही होगी, सपा ने यूपी में जो काम किया है वो कोई नहीं कर सकता.

चुनावी अभियान की शुरुआत हुई सुल्तानपुर से..

अखिलेश यादव ने कहा कि मुझे यक़ीन है कि चुनाव में जनता तय करेगी कि अच्छे दिन कौन लाएगा, हम सिर्फ बोलते नहीं काम करते हैं. हमने 55 लाख महिलाओं को समाजवादी पेंशन देने का काम किया है.

एम्बुलेंस चलाईं, मोबाइल स्कीम शुरू की, एक करोड़ लोगों को 1000 रुपये पेंशन देंगे, स्मार्ट फोन के लिए 1.40 करोड़ रजिस्ट्रेशन हुआ.

आपको बता दें कि रविवार को अखिलेश यादव ने ही पार्टी का चुनावी घोषणापत्र जारी किया था.

अखिलेश बुधवार को लखीमपुर में आयोजित एक चुनावी रैली को भी संबोधित करेंगे.

 

तीसरे दौर का नामांकन आज से

यूपी चुनाव के तीसरे दौर के लिए आज से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो गई है. तीसरे दौर में 12 जिलों की 69 सीटों पर 19 फरवरी को मतदान होना है. इनमें कन्नौज, मैनपुरी, इटावा, ओरैया, कानपुर और लखनऊ जिलों की सीटें हैं. उम्मीदवार 31 जनवरी तक नामांकन दाखिल कर सकते हैं. इसके साथ ही 4 फरवरी तक उम्मीदवार अपना नाम वापस ले सकते हैं.

यूपी की 403 विधानसभा सीटों पर 11 फ़रवरी से 8 मार्च तक 7 चरणों में चुनाव होने वाले हैं. वोटों की गिनती का काम 11 मार्च को होगा.