हरिद्वार। यहां महिला अस्पताल की विशेष नवजात शिशु देखभाल इकाई (एसएनसीयू) में सेवारत नर्स कोरोना संक्रमित हो गई है। इससे अब एसएनसीयू में बच्चे भर्ती नहीं होंगे। पहले से भर्ती दस बच्चों के साथ डॉक्टरों व अन्य स्टाफ के कोरोना जांच होगी। इससे बच्चों के माता-पिता में हड़कंप मचा हुआ है। 
गौरतलब है कि महिला अस्पताल में 20 बेड की एसएनसीयू है। इस समय एसएनसीयू में दस बच्चे भर्ती हैं। अब इनकी सेवा कर रही नर्स कोरोना संक्रमित हो गई है। नर्स को तो अस्पताल में भर्ती करा दिया है। महिला अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉ. राजेश गुप्ता ने बताया कि दस नवजात बच्चों के सैंपल लेकर जांच की जाएगी। बाल रोग विशेषज्ञ के अलावा अन्य डॉक्टरों एवं नर्स के सैंपल लिए जाएंगे। वहीं जिला अस्पताल के काउंटर कर्मी को भी कोरोना हो गया है। काउंटर कर्मी को बदलते हुए सैनिटाइज कराकर अस्पताल खुला रखा गया है।