Wednesday , May 29 2024
Breaking News
Home / चर्चा में / करोड़ के घोटाले का आरोप, 1368 करोड़ का द‍िया चुनावी चंदा, जान‍िए कौन है ‘लॉटरी क‍िंग’

करोड़ के घोटाले का आरोप, 1368 करोड़ का द‍िया चुनावी चंदा, जान‍िए कौन है ‘लॉटरी क‍िंग’

नई दिल्ली। भारतीय निर्वाचन आयोग ने गुरुवार को उन कंपनियों की लिस्ट जारी की थी जिन्होंने चुनावी चंदा देने के लिए चुनावी बॉन्ड्स खरीदे थे। इससे कुछ दिन पहले ही सुप्रीम कोर्ट की ओर से फटकार लगाए जाने के बाद भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने आयोग को ये जानकारी सौंपी थी। इस लिस्ट के अनुसार सबसे ज्यादा चुनावी चंदा देने वाली कंपनी का नाम फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड है। यह कंपनी सैंटियागो मार्टिन नामक शख्स की है जो ‘लॉटरी किंग’ के नाम से मशहूर है।

फ्यूचर गेमिंग की स्थापना 1991 में लॉटरी किंग ऑफ इंडिया सैंटियागो मार्टिन ने की थी। आंकड़ों के मुताबिक फ्यूचर गेमिंग और होटल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड ने कुल 1,368 करोड़ रुपये के बांड खरीदे थे। ये कंपनी अकेले 1,000 करोड़ रुपये दान करने वाली कंपनी थी। फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड ने 2019 से 2024 के बीच 1368 करोड़ का दान दिया।

900 करोड़ के घोटाले का आरोप, ईडी की जांच…

लॉटरी किंग का नाम घोटालों में भी आता रहा है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) साल 2019 से मनी लॉन्ड्रिंग के कथित मामले में फ्यूचर गेमिंग की जांच कर रही है। पिछले साल मई में ईडी ने कोयंबटूर और चेन्नई में छापेमारी भी की थी। इस दौरान उसकी 457 करोड़ रुपये की संपत्ति फ्रीज कर दी गई थी। रिपोर्ट्स के अनुसार ईडी की जांच सीबीआई की चार्जशीट पर आधारित है। आरोप है कि मार्टिन की कंपनी केरल में सिक्किम सरकार की लॉटरी बेचती थी। उसने अप्रैल 2009 से अगस्त 2010 तक जीतने वाले लॉटरी टिकट्स के दावे बढ़ा-चढ़ा कर दिखाए और सिक्किम को 910 करोड़ का चूना लगाया था।

13 राज्यों में चलता है सैंटियागो मार्टिन का फर्म…

-सैंटियागो मार्टिन का फर्म फ्यूचर गेमिंग भारत के 13 राज्यों में काम करता है। इन 13 राज्यों में कंपनी में 1 हजार से भी ज्यादा कर्मचारी है। इन सभी 13 राज्यों में लॉटरी कानूनी रूप से वैध है।
-ये 13 राज्य हैं, असम, गोवा, केरल, अरुणाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मेघालय, मिजोरम, मणिपुर, नागालैंड, सिक्किम, पंजाब और पश्चिम बंगाल। इन सभी राज्यों में फ्यूचर लोकप्रिय ‘डियर लॉटरी’ का एकमात्र वितरक है।
-फ्यूचर गेमिंग वेबसाइट की मानें तो सैंटियागो मार्टिन लाइबेरिया के लिए कॉन्सल जनरल भी थे। फ्यूचर गेमिंग कानूनी मामलों में भी फंस चुका है।
-साल 2022 में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में लॉटरी कंपनी फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड और इसके अन्य वितरकों की 409 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति जब्त की थी।
-प्रवर्तन निदेशालय 2019 से पीएमएलए कानून के कथित उल्लंघन के लिए कंपनी की जांच कर रहा है। उन्होंने मई 2023 में कोयंबटूर और चेन्नई में छापेमारी की थी। ईडी की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के आरोप पत्र पर आधारित है, जिसमें आरोप लगाया गया है कि कंपनी ने केरल में सिक्किम सरकार से लॉटरी बेची।

About team HNI

Check Also

ऋषिकेश: एम्स की परीक्षा में नकल कराते दो डॉक्टर समेत पांच गिरफ्तार, ऐसे चल रहा था पूरा ‘खेल’

ऋषिकेश। देहरादून पुलिस ने ऑल इंडिया स्तर पर एम्स द्वारा आयोजित एमडी परीक्षा (इंस्टीट्यूट आफ …

Leave a Reply