देहरादून। यहां एक व्यक्ति अपने बेटे के साथ जौलीग्रांट मेडिकल कॉलेज में हुई काउंसिलिंग में हिस्सा लेने पहुंचा था। बाद में पता चला कि काउंसिलिंग में शामिल होने वाला युवक कोरोना पॉजिटिव है। जिसके बाद संस्थान संचालक की ओर से दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है।
जौलीग्रांट मेडिकल कॉलेज के डीसी धस्माना ने दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया कि 31 जुलाई को मेडिकल कॉलेज में नीट पीजी पाठ्यक्रम की रिक्त सीटों के लिए काउंसलिंग की गई थी। काउंसलिंग में डॉ. पंकज जैन के बेटे डॉ. सतीश जैन ने हिस्सा लिया था। ये लोग हरियाणा के हिसार से आए थे। काउंसलिंग की प्रक्रिया खत्म होने के बाद पिता ने प्रधानाचार्य को बताया कि उनके बेटे डॉ. सतीश जैन कोरोना पॉजिटिव हैं, ये पता चलते ही मेडिकल कॉलेज प्रशासन में हड़कंप मच गया।
इस मामले में मेडिकल संस्थान के संचालक डॉ. डीसी धस्माना ने पिता और बेटे के खिलाफ जानकारी छिपाने के आरोप में केस दर्ज कराया है। पुलिस ने बताया कि दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। जल्द ही आरोपियों के खिलाफ जरूरी कार्रवाई की जाएगी।