Sunday , January 16 2022
Breaking News
Home / चर्चा में / ओमिक्रॉन वैरिएंट की जांच का पता लगाने वाली पहली किट Omisure को आईसीएमआर ने दी मंजूरी

ओमिक्रॉन वैरिएंट की जांच का पता लगाने वाली पहली किट Omisure को आईसीएमआर ने दी मंजूरी

नई दिल्ली। कोरोना का ओमीक्रोन वेरिएंट तेजी से फैल रहा है। अब भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने ओमीक्रोन का पता लगाने वाली पहली किट को मंजूरी दी है। बताया बता दें कि आईसीएमआर की तरफ से (Tata Medical & Diagnostics) की TATA MD CHECK RT-PCR OmiSure को ये मंजूरी 30 दिसंबर को ही मिल गई थी, लेकिन इसकी जानकारी आज मंगलवार सामने आई है।

देश के 23 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कोरोना वायरस के नए स्वरूप ‘ओमिक्रॉन’ के अब तक 1,892 मामले सामने आ चुके हैं। जिनमें से 766 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं या विदेश चले गए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मंगलवार को अपडेट किए गए आंकड़ों के मुताबिक, नए स्वरूप के महाराष्ट्र में सबसे अधिक 568 मामले सामने आए और इसके बाद दिल्ली में 382, केरल में 185, राजस्थान में 174, गुजरात में 152, और तमिलनाडु में 121 मामले सामने आए हैं। उपचाराधीन मामले संक्रमण के कुल मामलों का 0.49 प्रतिशत हैं जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 98.13 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 26,248 मामलों की वृद्धि दर्ज की गई है।

ओमिक्रोन संक्रमण को कैसे रोकें…
भारत में वायरस के ओमिक्रोन के कारण कोविड के मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है। ऐसे में मास्क, टीकाकरण, सोशल डिस्टेंसिंग जैसे निवारक उपायों को बढ़ाने और आत्मसंतुष्ट न होने की तत्काल जरूरत है । स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के ताजा दिशानिर्देश के मुताबिक, जो सावधानियां और कदम उठाए जाने हैं, वे पहले की तरह ही रहेंगे। दिशा निर्देश में कहा गया है, “अपने चेहरे पर ठीक से मास्क लगाना आवश्यक है। टीकों की दोनों खुराक लें (यदि अभी तक टीकाकरण नहीं किया गया है), शारीरिक दूरी बनाए रखें और जहां तक संभव हो, अच्छा वेंटिलेशन बनाए रखें।

About team HNI

Check Also

नीट-पीजी काउंसलिंग को सुप्रीम कोर्ट से हरी झंडी

नई दिल्ली। आज शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने नीट-पीजी काउंसलिंग 2021 को हरी झंडी दे …

Leave a Reply