RJD प्रमुख लालू यादव और उनका पूरा परिवार सीबीआई और ईडी के निशाने पर आ गई है जिसके बाद बिहार की राजनीति में भूचाल आ गया है. राजद सीबीआई के छापेमारी पर भारतीय जनता पार्टी और आरएसएस पर जमकर हमला बोल रही है. राजद सोशल मीडिया पर भी आक्रमक रुख अपना रही है.

राजद ने अपने फेसबुक अकाउंट पर अरविंद शेष के माध्यम से लिखा है इतना साफ हो गया है कि लालू प्रसाद किन वजहों से आरएसएस-भाजपा के लिए अकेले चुनौती हैं. जिस जमीन पर भाजपा खेलती है, उसे कोड़-तोड़ सकने में अकेले लालू ही कामयाब हो पाते हैं. बल्कि इस कसौटी पर लालू की क्षमता मोदी टाइप तमाम नेताओं के मुकाबले कई गुना बढ़ जाती है.

बाकी लालू या तेजस्वी के खिलाफ भ्रष्टाचार के मुद्दे पर शायद खुद भाजपा भी कुछ बोल सकने के काबिल नहीं है. इस कसौटी पर पता नहीं कितने लोगों को, खासतौर पर भाजपा के शीर्ष नेताओं को जेल जाना पड़ेगा…बहरहाल…तेजस्वी पर इस समूचे मामले की रोशनी टिकाए रखने और मौजूदा राजनीति में किनारे करने के पीछे का खेल भी यही है कि लालू की ताकत उनके इसी बेटे यानी तेजस्वी में दिखती है…तो… जो भी अश्वमेध के रास्ते में खड़ा होने सकने की कूबत रखेगा…. उसे इसी तरह तंग किया जाएगा… निपटा दिया जाएगा… लेकिन लगता है कि लालू किसी और मिट्टी के बने हैं…

न्यूज़ सोर्स – Daily Bihar News