Thursday , October 1 2020
Breaking News
Home / चर्चा में / जानिये किसकी दीवानी हैं सांसद डिंपल यादव

जानिये किसकी दीवानी हैं सांसद डिंपल यादव

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए पहली बार जौनपुर के दौरे पर आई लोकसभा सांसद डिंपल यादव ने आज चुन-चुनकर विपक्षी दलों पर वार किया। इस दौरान उन्होंने अपनी पसंद का भी खुलासा किया।

 

कन्नौज की सांसद ने कहा कि जौनपुर की इमरती बहुत प्रसिद्ध है। मैं यहां की इमरती खूब खाती हूं। यह काफी स्वादिष्ट होती है। डिंपल के इतना कहते स्‍थानीय नेताओं ने बताया कि हेलीकाप्टर में इमरती रखवा दी गई है।

बता दें कि जौनपुर की इमरती लंबे समय से नेताओं की पहली पसंद रही है। एक जमाने में अपने इत्र और सुगंधित तेलों के लिए मशहूर रहे जौनपुर शहर की लजीज इमरती की देश-विदेश में धूम रही है।

‘शिराज़-ए-हिंद’ के नाम से मशहूर जौनपुर शहर की प्रसिद्ध इमरती 153 वर्ष पुरानी हो चुकी है। शहर के नक्खास मुहल्ले के निवासी बेनीराम देवी प्रसाद ने सन 1855 से अपनी दुकान पर देशी घी की ‘इमरती’ बनाना शुरू किया था।

उस समय देश गुलाम था फिर भी बेनीराम देवीप्रसाद ने अपनी इमरती की श्रेष्ठता एवं स्वाद बरकरार रखा। बेनी राम देवी प्रसाद के बाद उनके लड़के बैजनाथ प्रसाद, सीताराम व पुरषोत्तम दास ने अपना कारोबार बढ़ाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी।

इन्होंने भी जौनपुर की प्रसिद्ध इमरती की महक बनाए रखी। इसके बाद विष्णु चन्द, प्रेमचन्द एवं जवाहरलाल ने इमरती को देश के बाहर भेजने का काम शुरू किया। अब जौनपुर की प्रसिद्ध इमरती को बेनीराम देवी प्रसाद की चौथी पीढ़ी के वंशजों ने पूरी तरह से संभाल लिया है।

जौनपुर की प्रसिद्ध इमरती की खासियत यह है कि यह हरे उड़द, देशी चीनी और देशी घी से लकड़ी की आंच पर ही बनाई जाती है। उड़द की दाल को सिल-बट्टे से पिसवाया जाता है। इमरती के लिए देशी चीनी आज भी बलिया से मंगाई जाती है।

देशी चीनी और देशी घी में बनने के कारण इमरती गरम होने और ठंडी रहने पर भी मुलायम रहती है। बिना फ्रिज के इस इमरती को कम से कम दस दिन तक सही हालत में रखा जा सकता है। स्‍थानीय लोग बताते हैं कि पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर समेत कई दिग्गज नेताओं की पसंद रही है।

loading...

About team HNI

Check Also

bjp

गुजरात में भाजपा करोड़ों रुपए में खरीद रही है विधायक

कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी पर गुजरात में राज्यसभा चुनाव से पहले विधायकों की खरीद-फरोख्त …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Traffic Bot