Tuesday , August 9 2022
Breaking News
Home / खेल / भारत को झटका : नीरज कॉमनवेल्थ गेम्स से बाहर!

भारत को झटका : नीरज कॉमनवेल्थ गेम्स से बाहर!

  • वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में लगी थी चोट, एक महीने करेंगे आराम

नई दिल्ली। ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा चोट के चलते कॉमनवेल्थ गेम्स में नहीं खेल पाएंगे। यह इवेंट 28 जुलाई से शुरू हो रहा है। नीरज चोपड़ा को वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में जेवलिन फाइनल के दौरान चोट लगी थी। फाइनल के दौरान नीरज अपनी जांघ पर पट्टी लपेटते भी नजर आए थे।
इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी राजीव मेहता ने नीरज के कॉमनवेल्थ में न खेलने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि डब्ल्यूएसी के फाइनल के दौरान उन्हें इंजरी आई थी। वे अभी भी फिट नहीं है।
वर्ल्ड एथलेटिक्स इवेंट के बाद नीरज का एमआरआई स्कैन हुआ था, जिसमें ग्रोइन इंजरी की बात पता लगी है। ऐसे में नीरज को करीब एक महीने का आराम की सलाह दी गई है। कॉमनवेल्थ गेम्स में नीरज का मैच 5 अगस्त को होना था, उसी दिन जैवलिन थ्रो का इवेंट था। अब इस फील्ड में भारत की उम्मीदें डीपी मनु और रोहित यादव से हैं। जेवलिन थ्रो में अब यह दोनों ही भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे।
वर्ल्ड चैंपियनशिप के फाइनल में नीरज ने चौथे थ्रो में 88.13 मीटर भाला फेंक कर भारत के लिए रजत पदक पक्का किया था। इसी दौरान उनके पैर में खिंचाव आ गया था। नीरज ने फाइनल में 6 थ्रो में से 3 थ्रो पैर की दर्द की वजह से फाउल किया था। उनका पहला और आखिरी दो थ्रो फाउल हुए थे। नीरज ने खुद कहा था कि चौथे थ्रो में उन्हें ग्रोइन में ज्यादा दर्द हुआ। उसकी वजह से अंतिम दो थ्रो में वह पूरा जोर नहीं लगा पाए।
वर्ल्ड एथलेटिक्स फाइनल के बाद नीरज ने कहा था कि चौथे थ्रो के बाद थाई में थोड़ी प्रॉब्लम थी। मैंने पट्टी बांधी और फिर अगला थ्रो किया। अभी मेडल जीतने का जोश है और वॉर्मअप हूं इसलिए पता नहीं चल रहा है। सुबह ही पता चल पाएगा कि चोट कितनी गंभीर है। उम्मीद है कि सब कुछ ठीक रहेगा और अगले टूर्नामेंट कॉमनवेल्थ गेम्स में भाग ले सकूंगा। इससे पहले 2019 में नीरज को कोहनी में इंजरी थी। इंजरी इतनी गंभीर थी कि उनका करियर तक खतरे में आ गया था। हालांकि, नीरज ने ऑपरेशन कराया। करीब एक साल तक अपना फोन बंद रखा और वापसी की। इसके बाद ही उन्होंने टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड जीता था।

About team HNI

Check Also

उत्तराखंड : भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त

देवप्रयाग में पंत गांव के पास बदरीनाथ हाईवे का 50 मीटर हिस्सा धंसा और विकासनगर …

Leave a Reply