• कोरोना पसार रहा पांव
  • त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पहले ही चेताया था, यदि सावधानी न बरती तो संक्रमित मरीज होंगे 25 हजार
  • विशेषज्ञों के अनुसार अब सितंबर के अंत तक प्रदेश में 25 हजार पहुंच सकता है संक्रमितों का आंकड़ा
  • खतरे को बढ़ा रही बीते 15 दिनों के दौरान रोज बढ़ रही पॉजिटिव मरीजों की संख्या की रफ्तार

देहरादून। प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों में अप्रत्याशित तेजी आने की रफ्तार से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की यह आशंका सच में तब्दील होती जा रही है कि यदि सावधानी न बरती तो संक्रमितों की संख्या 25 हजार तक हो सकती है। अब विशेषज्ञों के अनुसार पॉजिटिव मामले बढ़ने में आई तेजी से लगता है कि सितंबर माह के अंत तक आंकड़ा 25 हजार तक पहुंच सकता है। बीते 15 दिनों से प्रतिदिन औसतन 350 संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। ठीक होने वाले मरीजों से ज्यादा संक्रमित मामले मिलने से सक्रिय मरीजों की संख्या चार हजार के पार हो गई है। 
प्रदेश में पिछले 10 दिनों की तुलना में मंगलवार को सर्वाधिक कोरोना संक्रमित मिले हैं। आठ अगस्त को एक दिन में 501 संक्रमित मामले सामने आए थे। वहीं, मंगलवार को 497 संक्रमित मरीज मिले हैं। पहाड़ से लेकर मैदान तक कोरोना संक्रमण का असर रहा है।
कोरोना काल के 157 दिनों में प्रदेश में संक्रमितों का आंकड़ा 13 हजार पार करने वाला है। पिछले 30 दिनों में 23 दिन ऐसे हैं, जिनमें ठीक होने वाले मरीजों से ज्यादा संक्रमित मामले मिले हैं। वहीं सात दिन में संक्रमित मामलों से ज्यादा कोरोना मरीज ठीक हुए हैं। 
विशेषज्ञों का भी कहना है कि 15 दिनों से जिस तरह कोरोना संक्रमित मामले सामने आ रहे हैं। उसके आधार पर 25 से 30 सितंबर तक प्रदेश में संक्रमितों की संख्या 25 हजार होने का अनुमान है। वहीं रिकवरी पर संक्रमित मामले भारी पड़ रहे हैं। हरिद्वार जिले में कोरोना संक्रमित मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। बीते दो सप्ताह से हरिद्वार में सौ से अधिक संक्रमित मामले सामने आ रहे हैं। हरिद्वार में संक्रमितों की संख्या तीन हजार के पार हो गई है। वहीं, दो हजार से अधिक सक्रिय मरीज हैं। 

कोरोना मामलों का तुलनात्मक विश्लेष्ण

जिला                 संक्रमित    ठीक हुए  …………………………………………
हरिद्वार              3167      2004
देहरादून               2537      1847
ऊधमसिंह नगर     2387      1518
नैनीताल              1882      1278
टिहरी                     798       602
उत्तरकाशी              489       221
अल्मोड़ा                  384       340
पौड़ी                        341       257
चंपावत                    223       119
पिथौरागढ़                215       171
रुद्रप्रयाग                  152        91
चमोली                    195        120
बागेश्वर                   191        156
……………………………………………..
कुल                      12961       8724
……………………………………………….
हालांकि कोरोना के भावी संकट को देखते हुए त्रिवेंद्र सरकार ने देहरादून जिले के हर्रावाला में 300 बेड का महिला एवं कैंसर अस्पताल के निर्माण को वित्तीय और प्रशासनिक मंजूरी दे दी है। लगभग 106 करोड़ की लागत से बनने वाले इस अस्पताल के निर्माण में पहले चरण के कार्य के लिए 10 करोड़ रुपये व्यय होंगे।हर्रावाला में जीवन ज्योति हास्पिटल ट्रस्ट की ओर से दान में स्वास्थ्य विभाग को दी गई जमीन पर 300 बेड का शकुंतला रानी सरदारी महिला एवं कैंसर अस्पताल का निर्माण 18 माह में पूरा किया जाएगा।ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेलवे परियोजना के तहत रेलवे ने अपने सीएसआर फंड का उपयोग करते हुए श्रीनगर में 52 बेड के अस्पताल का निर्माण कराया है। यह अस्पताल जल्द ही राज्य के स्वास्थ्य विभाग को मिल जाएगा। सरकार के प्रयास हैं कि संक्रमितों की संख्या बढ़ने के चलते पहले से ही सभी इंतजाम पुख्ता कर लिया जाये ताकि कोरोना पर काबू पाया जा सके।