रुद्रपुर। बीते सोमवार की रात यहां इंदिरा चौक पर बाइक चेकिंग के दौरान एक युवक के माथे पर सीपीयू ने बाइक की चाबी घोंप दी। पुलिस की इस बर्बर कार्रवाई आक्रोशित सैकड़ों लोगों ने कोतवाली के आगे एनएच 87 में जाम लगा दिया और पुलिस और सीपीयू के खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया। पुलिस ने बल प्रयोग करके उन्हें रोकने की कोशिश की तो पब्लिक और भड़क गई और पुलिसकर्मियों और कोतवाली पर पथराव कर दिया। पथराव में एक पुलिसकर्मी चोटिल हो गया जबकि कोतवाल और बाजार चौकी इंचार्ज को पत्थरों से बचने के लिए भागना पड़ा। विधायक के मौके पर पहुंचने और आरोपियों पर कार्रवाई की बात पर भीड़ शांत हुई। इस मामले में देर रात एसएसपी ने सीपीयू दरोगा समेत तीन सीपीयू कर्मियों को निलंबित कर दिया।

मिली जानकारी के अनुसार सोमवार रात करीब 8 बजे जब रमपुरा निवासी दीपक अपने दोस्त प्रेम प्रकाश के साथ बाइक पर तेल भरवाने पेट्रोल पंप जा रहे थे। तो इस दौरान इंदिरा चौक पर तैनात सीपीयू ने उन्हें रोक लिया और बाइक पर बिना हेलमेट पीछे बैठे प्रेम प्रकाश को उतार दिया। इस बीच सीपीयू कर्मचारी और बाइक सवार में कहासुनी हो गयी तो सीपीयू ने गुस्से में आकर ने बाइक से चाबी निकालकर दीपक के मुंह पर वार कर दिया। उसका वार इतना तेज था कि बाइक की चाबी दीपके माथे में घुस गई। आधी चाबी उसके सर के अंदर और आधी चाबी सर के बाहर दिख रही थी। जिससे दीपक का चेहरा पूरी तरह लहूलुहान हो गया। आसपास के लोगों ने यह देखा तो बेहोश दीपक को तुरंत उपचार के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया।

जैसे ही इस घटना की खबर रमपुरा के लोगों में फैली तो वहां के सैकड़ों लोग कोतवाली के पास एकत्रित हो गए और सीपीयू की खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे। उन्होंने कोतवाली के पास रम्पुरा गेट पर पथराव कर दिया। पुलिस ने जैसे-तैसे सड़कों पर आए लोगों को रमपुरा गेट पर रोका। पूरे मामले की जानकारी लेने के बाद एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने बताया कि सीपीयू के उप निरीक्षक राम प्रवीन और कांस्टेबल वीरेंद्र चौहान तथा जगदीश जोशी को तुरंत सस्पेंड कर दिया गया है।