सहारा डायरी के मामले में कांग्रेस लगातार सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमले कर रही है। कांग्रेस का आरोप है कि सहारा ग्रुप को बचाने की कोशिश हो रही है। कांग्रेस ने सहारा डायरी मामले में पीएम मोदी का नाम घसीटते हुए कहा कि इनकम टैक्स विभाग पर मामले को जल्द से जल्द निपटाने के लिए दबाव बनाया गया। कांग्रेस के मुताबिक इससे साफ है कि पीएम कुछ छुपाना चाह रहे हैं।
कांग्रेस का आरोप है कि सहारा पेपर को सिर्फ 16 दिन के अंदर 3 तारीखों में निपटा दिया गया। कांग्रेस ने हैरानी जताते हुए कहा कि ताज्जुब है कि इनकम टैक्स सेटलमेंट विभाग ने इस मामले के निपटारे के लिए महज 12 दिनों का वक्त दिया।
मोदी सरकार से कांग्रेस के ये 5 सवाल 
1. सहारा मामले को रफा-दफा करने की जल्दी में क्यों है मोदी सरकार?
2. सहारा समूह जिसने हज़ार करोड़ रुपये की धांधली की, उसको फायदा क्यों दिया जा रहा है? मेज के नीचे से क्या समझौता है?
3. 22 नवंबर को 137 करोड़ रुपये सीज किए गए. इनकम टैक्स विभाग ने जुर्माना तक नहीं लगाया. इनकम टैक्स सेटलमेंट विभाग इस पर कठोर कार्रवाई क्यों नहीं कर रहा है?
4. सहारा डायरी में कैश के जरिए लेन-देन का जिक्र है. पूरी मामले की जांच होनी चाहिए?
5. मोदी सरकार ने सहारा ग्रुप के 4574 बैंक अकाउंट की पड़ताल क्यों नहीं की?