Monday , August 2 2021
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / जेल से फिरौती मांगने का भंडाफोड़

जेल से फिरौती मांगने का भंडाफोड़

दो वार्डनों को भी किया निलंबित

हरिद्वार। हरिद्वार जेल से चल रहे कुख्यातों के नेटवर्क का एसटीएफ ने भंडाफोड़ किया है। हत्या और लूट के मामलों में बंद कुख्यात इंतजार उर्फ भूरा व उसके साथी मोबाइल से फिरौती मांग रहे थे। एसटीएफ ने जेल से दो मोबाइल फोन और दो सिम व चार्जर भी बरामद किए हैं। एक कैदी की पत्नी से फिरौती के रूप में मांगी गई सोने की चेन लेने गए भूरा के दो साथियों को भी एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है। इस मामले में आईजी जेल ने दो वार्डनों को भी निलंबित किया है।
मामले में रोशानाबाद (हरिद्वार जिला जेल) में बंद एक कैदी वैभव बंसल के परिजनों ने डीजीपी से शिकायत की थी। वैभव बंसल 24 दिसंबर 2020 से जेल में बंद है। उसकी पत्नी को व्हाट्एसप से कॉल कर सोने की चेन फिरौती में मांगी जा रही थी। डीजीपी के निर्देश पर एसटीएफ ने इस मामले की जांच शुरू की तो पता चला कि यह फिरौती रोशनाबाद जेल में बंद इंतजार पहलवान (भूरा) व उसके साथी नावेद आलम ने मांगी है।
एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह ने बताया कि ट्रैप के मुताबिक चेन लेकर निर्धारित स्थान पर बंसल की पत्नी को पहुंचने को कहा गया। इसके बाद जैसे ही एक युवक चेन लेने पहुंचा तो उसे गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में उसने अपना नाम साहिल अली बताया। साहिल अली नावेद के भाई परवेज के कहने पर ही वहां पहुंचा था। जैसे ही परवेज आलम उसके पास निर्धारित स्थान पर पहुंचा तो उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया। इसके बाद एसटीएफ की टीम ने हरिद्वार जिला जेल में रेड डाली तो वहां से दो मोबाइल, दो सिम और एक चार्जर बरामद हुआ। इन मोबाइलों के माध्यम से इंतजार पहलवान उर्फ भूरा व नावेद व्हाट्सएप चलाते थे।

About team HNI

Check Also

दून विवि में हुई अंबेडकर चेयर की स्थापना

राज्यपाल, मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री ने कार्यक्रम में किया प्रतिभाग देहरादून। आज शुक्रवार को राज्यपाल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *