Sunday , January 16 2022
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / पांच साल में डोईवाला विस क्षेत्र में बहाई विकास की गंगा : त्रिवेंद्र

पांच साल में डोईवाला विस क्षेत्र में बहाई विकास की गंगा : त्रिवेंद्र

जो कहा वो कर दिखाया

  • पूर्व मुख्यमंत्री ने डोईवाला की जनता के समक्ष रखा पांच साल का रिपोर्ट कार्ड
  • कहा- हमने भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस और काम ज्यादा को मूल मंत्र मानकर किये कार्य
  • विधानसभा क्षेत्र के हर वर्ग व हर गांव तक विकास की गंगा पहुंचाने की पूरी कोशिश की

देहरादून। आज शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पांच साल में विधानसभा क्षेत्र डोईवाला में किए गए विकास कार्यों की रिपोर्ट जनता के सामने रखी। उन्होंने कहा कि इस दौरान उन्होंने विधानसभा क्षेत्र के हर वर्ग और हर क्षेत्र के विकास के लिए काम करने की पूरी कोशिश की। मुख्यमंत्री रहते हुए चार साल में प्रदेश के हर तबके और समाज के विकास के लिए किए गए कार्यों को भी उन्होंने गिनाया।

भाजपा सरकार के पांच साल के अवसर पर सभी 70 विधानसभा क्षेत्रों में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सरकार की उपलब्धियों का रिपोर्ट कार्ड जनता के समक्ष रखा। वहीं डोईवाला विधायक और पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी जोगीवाला रिंग रोड स्थित एक वेडिंग प्वाइंट में आयोजित कार्यक्रम में  डोईवाला विधानसभा क्षेत्र में पांच साल में किए गए उल्लेखनीय कार्यों को जनता को बताया और उम्मीद की कि आगामी चुनाव में जनता फिर से भाजपा को प्रचंड बहुमत से सरकार बनाने का मौका देगी।
त्रिवेंद्र ने कहा कि हर विधायक का दायित्व होता है कि वह जनता को बताए कि पांच साल में क्षेत्र के विकास के लिए क्या काम किए। उन्होंने कहा कि डोईवाला में राष्ट्रीय स्तर का सीपेट, राष्ट्रीय विधि विवि, 300 बेड का जच्चा बच्चा अस्पताल, कोस्टगार्ड भर्ती केंद्र आदि महत्वपूर्ण संस्थान खोले। डोईवाला का सीपेट देश का पहला ऐसा संस्थान है जहां 100 फीसद रोजगार मिल रहा है। देश के सभी सीपेट संस्थानों में यह एकमात्र ऐसा संस्थान है जहां 85 फीसद सीटें उत्तराखंड के बच्चों के लिए आरक्षित की गई हैं। डोईवाला में अत्याधुनिक ओवर हैड टैंक निर्माण किया जाएगा। विधानसभा क्षेत्र में करोड़ों रुपए की लागत से आंतरिक सड़कों और पुलों का निर्माण किया गया। अकेले रानीपोखरी मंडल के 22 गांवों में 23 करोड़ से ज्यादा की सड़कें बनाई गई और उनका नवीनीकरण किया गया। बाढ़ सुरक्षा, जंगली जानवरों से सुरक्षा जैसे अनेक कार्य किए गए। गरीबों, वृद्धावस्था, दिव्यांग, किसान और जरूरत महिलाओं को आजीविका पेंशन दी गई।  

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रहते हुए डोबारा चांटी पुल का निर्माण किया। यह पुल इस तरह से डिजाइन किया गया है कि पर्यटक इसे देखने के लिए दूर-दूर से आते हैं। यह पुल स्थानीय लोगों के रोजगार का भी जरिया बना है। गांवों में एक रुपए में पानी का कनेक्शन दिया गया। आयुष्मान योजना उत्तराखंड के जरिए 05 लाख प्रतिवर्ष प्रति परिवार की मुफ्त उपचार सुविधा और ऐसा करने वाला उत्तराखंड देश का पहला और एकमात्र राज्य है। महिलाओं को पति की पैतृक संपत्ति में बराबर का भागीदार बनाया।
त्रिवेंद्र ने कहा कि ग्रोथ सेंटर और होम स्टे के जरिए महिलाओं और स्थानीय लोगों के आर्थिक रूप से सशक्तीकरण के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाया। कह सकते हैं कि पांच साल में भाजपा सरकार ने समाज के हर वर्ग और हर क्षेत्र के विकास के लिए काम किया। उन्होंने क्षेत्र की जनता के साथ ही विभिन्न जनप्रतिनिधियों का सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में क्षेत्र की महिलाओं और युवाओं ने भाग लिया। कार्यक्रम में डोईवाला विधानसभा क्षेत्र के संयोजक बृजभूषण गैरोला  जिला अध्यक्ष शमशेर सिंह पुंडीर, पूर्व राज्यमंत्री करन बोरा, राजपाल रावत, महिला मोर्चा अध्यक्ष बालावाला मंडल सविता पंवार, अशोक राज पंवार समेत सभी मंडल अध्यक्ष, जिला परिषद सदस्य, पार्षद गण आदि मौजूद रहे।

About team HNI

Check Also

रामदेव और बालकृष्ण के गले में फंसी ‘कोरोनिल’!

हवाई दावा योग गुरु और आचार्य ने कोरोनिल से कोरोना खत्म होने का किया था …

Leave a Reply