Saturday , December 10 2022
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / तीन को मरणोपरांत समेत पांच विभूतियों को मिला उत्तराखंड गौरव पुरस्कार

तीन को मरणोपरांत समेत पांच विभूतियों को मिला उत्तराखंड गौरव पुरस्कार

देहरादून। आज बुधवार को उत्तराखंड राज्य स्थापना दिवस पर पुलिस लाइन में आयोजित कार्यक्रम में भारतीय फिल्म सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष प्रसून जोशी, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल सहित पांच विभूतियों को उत्तराखंड गौरव सम्मान से नवाजा गया।
राज्य सरकार ने उत्तराखंड गौरव सम्मान पुरस्कार के लिए पांच अलग-अलग क्षेत्रों में उत्कृष्ट योगदान के लिए पांच विभूतियों को पुरस्कार के लिए चुना। जिसमें तीन को मरणोपरांत पुरस्कार के लिए चयनित किया गया था। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल पुरस्कार लेने नहीं पहुंच सके। उनके बेटे शौर्य डोभाल ने पुरस्कार लिया।
प्रभारी सचिव सचिवालय प्रशासन विनोद कुमार सुमन ने बताया पूर्व चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ रहे जनरल बिपिन रावत, कवि, लेखक और गीतकार रहे गिरीश चंद्र तिवारी, साहित्य एवं पत्रकारिता के क्षेत्र में वीरेन डंगवाल को मरणोपरांत इस पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है।
उत्तराखंड गौरव सम्मान के लिए पिछले साल पर्यावरण के क्षेत्र में डॉ.अनिल जोशी, साहसिक खेल के लिए बछेंद्री पाल, संस्कृति के लिए लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी, साहित्य के क्षेत्र में रस्किन बांड के नाम की घोषणा हुई थी। जबकि पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय नारायण दत्त तिवारी को मरणोपरांत इस पुरस्कार के लिए चयनित किया गया था। लेकिन पिछले साल कार्यक्रम आयोजित न होने के चलते इन विभूतियों को भी इस साल सम्मानित किया जाएगा।

About team HNI

Check Also

सरकार का यू टर्न : माना- रामदेव की दवाओं पर बैन यानी गलती से हुई ‘मिस्टेक’!

अब आयुर्वेद विभाग ने हटाई दिव्य फार्मेसी की पांच दवाओं के उत्पादन पर लगाई गई …

Leave a Reply