Wednesday , November 30 2022
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / भारत-चीन सीमा को जोड़ने वाला मलारी हाईवे तीन दिन से बंद, कई गांवों की आवाजाही हुई ठप

भारत-चीन सीमा को जोड़ने वाला मलारी हाईवे तीन दिन से बंद, कई गांवों की आवाजाही हुई ठप

जोशीमठ। उत्तराखंड में बारिश का कहर लगातार जारी है। पहाड़ों में भूस्खलन के चलते कई संपर्क मार्ग बाधित हैं। वहीं, मैदानी इलाकों में जलभराव के कारण लोगों को आवाजाही में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लगातार पहाड़ दरकने के कारण कई रास्ते बंद पड़े हैं। भूस्खलन के कारण कई गांवों का संपर्क भी कट गया है। वहीं जोशीमठ-मलारी हाइवे नासूर बन गया है। पिछले तीन दिनों से यह राजमार्ग बंद है। जिससे सीमावर्ती क्षेत्र से जुडे व्यक्तियों के अलावा सेना को भी आवाजाही में भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जिससे बीआरओ को सड़क खोलने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।
सामरिक दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण जोशीमठ-मलारी हाइवे तीन दिनों से बंद होने के कारण भारत-चीन सीमा पर सेना, आईटीबीपी के साथ भारत-चीन सीमा पर स्थित 33 गांवों की आवाजाही ठप है। बॉर्डर पर कई गांव में विद्युत संचार भी ठप होने से घाटी में लोगों की मुश्किलें बढ़ी हुई हैं। साथ ही भारत-चीन सीमा पर नीती, द्रोणागिरी सहित अन्य गांव में बर्फबारी ने ग्रामीणों की दुश्वारियां और बढ़ा दी है। मार्ग बंद होने के कारण यहां अब भी सैकड़ों लोग फंसे हुए हैं।

About team HNI

Check Also

सरकार का यू टर्न : माना- रामदेव की दवाओं पर बैन यानी गलती से हुई ‘मिस्टेक’!

अब आयुर्वेद विभाग ने हटाई दिव्य फार्मेसी की पांच दवाओं के उत्पादन पर लगाई गई …

Leave a Reply