Thursday , June 13 2024
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / मौसम ने बदली करवट, गंगोत्री हाईवे पर मलवा व बोल्डर गिरने से एक की मौत, दो घायल

मौसम ने बदली करवट, गंगोत्री हाईवे पर मलवा व बोल्डर गिरने से एक की मौत, दो घायल

देहरादून। उत्तराखंड में मौसम का मिजाज बदला हुआ है। शुक्रवार रात को पहाड़ से लेकर मैदान तक बारिश का दौर जारी है। जिससे तापमान में हल्की गिरावट आई। देर रात अधिकतर इलाकों में बारिश हुई। वहीं आज शनिवार सुबह गंगोत्री हाईवे धरासू बैंड के पास भूस्‍खलन की चपेट में आकर एक व्‍यक्ति की मौत हो गई है। इस दौरान दो व्यक्ति मलबे में दबने से गंभीर रूप से घायल हुए। वहीं एसडीआरएफ की सहायता से मलबे में दबे हुए व्यक्तियों को निकाला गया और खाई में गिरे व्यक्ति को रेस्क्यू किया गया। जहां सीएचसी चिन्यालीसौड़ में साइड इंचार्ज को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दियाया। जबकि ठेकेदार व डंपर चालक घायल व्यक्तियों का सीएचसी चिन्यालीसौड़ में उपचार चल रहा है।

बता दें कि उत्तराखंड में चार दिन तक लगातार हिमपात से उच्च हिमालयी क्षेत्रों की चोटियां लकदक हो गई हैं। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक अगले 24 घंटे में प्रदेश भर में बारिश तो ऊंचाई वाले इलाके में बर्फबारी की संभावना जताई है। वही 3500 मीटर ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी के आसार है। जिसे लेकर सभी जिलों में येलो अलर्ट जारी किया गया है।

वहीं केदारनाथ क्षेत्र में पिछले कई दिनों से खराब मौसम और बर्फबारी से मुश्किलें बढ़ गई हैं। गौरीकुंड, केदारनाथ पैदल मार्ग पर भैरव गदेराए कुबेर गदेरा और बड़ी लिनचोली के पास हिमखंड खिसकने से आवाजाही के लिए रास्ता बंद हो गया है। जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण व लोक निर्माण विभाग के मजदूर बर्फ साफ करने में जुटे हैं। वहीं मार्ग पर गौरीकुंड से रामबाड़ा के बीच क्षतिग्रस्त पुश्तों व रेलिंग की मरम्मत का काम भी जोरों पर चल रहा है। केदारनाथ क्षेत्र में बीते 15 मार्च से मौसम का मिजाज बिगड़ा हुआ हैए जिसके चलते पैदल मार्ग कई जगहों पर अति संवेदनशील हो गया है। मार्ग पर कई जगह हिमखंड खिसकर रास्ते पर आ गए हैं, जिससे वहां टनों बर्फ जमा होने से आवाजाही बंद हो गई है।

About team HNI

Check Also

पीएम मोदी के किन नेताओं को मिली हार, किसके हाथ लगी जीत, जानिए एक क्लिक में यहाँ…

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के नतीजे काफी हद तक साफ हो चुके हैं। 543 सीटों …

Leave a Reply