Thursday , December 8 2022
Breaking News
Home / उत्तरकाशी / तीसरे दिन भी रुकी यमुनोत्री धाम की यात्रा, फंसे तीर्थयात्री

तीसरे दिन भी रुकी यमुनोत्री धाम की यात्रा, फंसे तीर्थयात्री

उत्तरकाशी। प्रदेश में बीते कई दिनों से हो रही बारिश के कारण यमुनोत्री धाम की यात्रा आज मंगलवार को तीसरे दिन भी रुकी पड़ी है। तीर्थयात्री जगह-जगह फंसे हुए हैं। इसके बाद कई श्रद्धालुओं ने गंगोत्री धाम की ओर रुख किया है।
विगत दिनों भारी बारिश के कारण चारधाम यात्रा के लिए नासूर बना जानकीचट्टी यमुनोत्री पैदल मार्ग भंडेलीगाड़ के पास भूस्खलन से अवरूद्ध हो गया था, जिसके चलते प्रशासन ने जानकीचट्टी से यमुनोत्री धाम की ओर श्रद्धालुओं को बीते शनिवार से जाने से रोका हुआ है। प्रशासन ने आज मंगलवार देर शाम आवाजाही शुरू करने की बात कही है।
यमुनोत्री धाम यात्रा के पैदल मार्ग पर सुरक्षित आवाजाही न होने से बार-बार यात्रा स्थगित हो रही हैॅ। जिससे यात्रियों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। जानकीचट्टी यमुनोत्री पैदल मार्ग पर करोड़ों खर्च के बाद भी सुरक्षित आवाजाही सपना बनकर रह गई है। पिछले एक दशक में यहां सुरक्षित आवाजाही के नाम पर पांच करोड़ खर्च किए जा चुके हैं जबकि इस यात्रा सीजन से पूर्व वैकल्पिक मार्ग के नाम पर 50 लाख खर्च किए गए।
यमुनोत्री पहुंचने के लिए तीर्थयात्रियों को पांच किमी लंबे जानकीचट्टी यमुनोत्री पैदल मार्ग से होकर गुजरना होता है लेकिन मार्ग संकरा होने से लोगों को आवाजाही में दिक्कत हो रही है। नौगांव ब्लाक प्रमुख सरोज पंवार, पुरोहित महासभा अध्यक्ष पुरुषोत्तम उनियाल, मनमोहन उनियाल आदि ने बताया कि लंबे समय से भंडेलीगाड़ में समस्या बनी है लेकिन अभी तक इसका स्थायी समाधान न होने से आए दिन यात्रा बाधित हो रही है। 

About team HNI

Check Also

सरकार का यू टर्न : माना- रामदेव की दवाओं पर बैन यानी गलती से हुई ‘मिस्टेक’!

अब आयुर्वेद विभाग ने हटाई दिव्य फार्मेसी की पांच दवाओं के उत्पादन पर लगाई गई …

Leave a Reply