Tuesday , June 25 2024
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / उत्तराखंड में एक और भर्ती परीक्षा में अनियमितता का आरोप, पूर्व मंत्री की बेटी के कम अंक के चयन पर उठे सवाल

उत्तराखंड में एक और भर्ती परीक्षा में अनियमितता का आरोप, पूर्व मंत्री की बेटी के कम अंक के चयन पर उठे सवाल

देहरादून। उत्तराखंड बेरोजगार संघ ने चिकित्साधिकारियों के चयन में धांधली को लेकर उत्तराखंड चिकित्सा सेवा बोर्ड के अध्यक्ष डॉ डी०एस० रावत का घेराव किया । संघ के अध्यक्ष बॉबी पंवार ने कहा कि उत्तराखंड चिकित्सा बोर्ड द्वारा चिकित्साधिकारी के पदों में हुए चयन में भारी गड़बड़ी हुई हुई है। बोर्ड द्वारा चयनित अभ्यार्थीयों में उन अभ्यर्थियों का भी चयन हुआ है जिनके लिखित परीक्षा में मात्र 4-6 % अंक हैं जबकि लिखित परीक्षा में 80-85 % अंक आने के बावजूद भी उनका अंतिम चयन नहीं हो पाया है जिसमें भाजपा नेता एवं पूर्व मंत्री की सुपुत्री के 13.25 अंक होने पर भी अंतिम चयन हुआ है। चयन का आधार सिर्फ साक्षात्कार ही रखा गया था, तो लिखित परीक्षा कराने का क्या औचित्य रहा। अगर आपने लिखित परीक्षा करानी ही थी तो कालीफाई के लिए एक न्यूनतम अंक सीमा नि र्धारित करने चाहिए थी।

बॉबी पंवार ने कहा कि बोर्ड द्वारा अभ्यर्थियों का जो साक्षात्कार किया गया उसकी वीडियो रिकॉर्डिंग भी नहीं की गई। बॉबी पंवार ने बोर्ड के अध्यक्ष डॉ० डी०एस० रावत को पूरी परीक्षा प्रणाली की जांच एक स्वतंत्र एजेंसी से कराए जाने और गलत तरीके से अभ्यर्थियों को चयनिय कराने वाले सम्बंधित अधिकारियों पर सख्त कार्यवाही करने की मांग की साथ ही कहा कि एक भाजपा नेता व मंत्री की पुत्री के मात्र 13.25 अंक होने पर अंतिम चयन हो जाने संबंधी गम्भीर विषय पर तत्काल निर्णय लिया जाए। बॉबी पंवार ने कहा कि शीघ्र ही मुख्यमंत्री से मिलकर उनके स्वयं के विभाग में हो रहे भ्रष्टाचार की बात रखेंगे। बोर्ड के अध्यक्ष डॉ० डी०एस० रावत ने आश्वासन दिया कि हम शीघ्र बोर्ड कमेटी की बैठक बुलाकर इस विषय पर फैसला लेंगे।

About team HNI

Check Also

पीएम मोदी के किन नेताओं को मिली हार, किसके हाथ लगी जीत, जानिए एक क्लिक में यहाँ…

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के नतीजे काफी हद तक साफ हो चुके हैं। 543 सीटों …

Leave a Reply