Friday , April 12 2024
Breaking News
Home / चर्चा में / राम मंदिर में अब नहीं होगी सीता-राम की एक साथ वाली स्तुति, जानिए वजह…

राम मंदिर में अब नहीं होगी सीता-राम की एक साथ वाली स्तुति, जानिए वजह…

आयोध्या। 22 जनवरी को रामलला के प्राण प्रतिष्ठा का भव्य आयोजन होने जा रहा है। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित देश कई साधु-संतों को भी आमंत्रित किया गया है। इस बीच एक बड़ी बात सामने आई है। जिसके अनुसार प्राण-प्रतिष्ठा के बाद राम मंदिर की पूजा पद्धति में होने वाले बड़े बदलाव होंगे।

मंदिर के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास का कहना है कि रामलला के मंदिर में माता सीता और प्रभु श्रीराम की स्तुति अब एक साथ नहीं होगी। उन्होंने तर्क देते हुए बताया कि , ”राम मंदिर में प्रभु श्रीराम बालरूप में होंगे, इसलिए सीता-राम की साथ वाली स्तुति अब नहीं होगी। उन्होंने कहा, ”राम उनके चार भाई, तीन माता, सरयू मैया और अयोध्या नाथ की स्तुति होगी।”पूजा पद्धति में बदलाव की पुस्तिका रामलला के मुख्य पुजारी समेत प्रशिक्षण ले रहे सभी पुजारियों को भेजी गई है।

अयोध्या में कैसी क्या हैं तैयारियां:- राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा से पहले पूरे अयोध्या को सजाया जा रहा है। तैयारियां लगातार जारी हैं। मिलीं जानकारी के मुताबिक, बुधवार (10 जनवरी) को अयोध्या के मोहबरा बाजार में तैयारियों के हिस्से के रूप में माता सीता का एक बड़ा सा ‘कंगन’ स्थापित किया गया है। शहर में प्रवेश द्वार तैयार किए जा रहे हैं। वहीं श्री राम जन्मभूमि मंदिर में एटा के लोगों के एक प्रतिनिधिमंडल की ओर से 2400 किलोग्राम वजन का एक विशाल घंटा चढ़ाया गया है। मंदिर में लगने वाला अष्टधातु से बना 2100 किलो का एक और घंटा ट्रस्ट को सौंपा गया है।

गुजरात से अयोध्या पहुंच रही 108 फुट लंबी अगरबत्ती:- गुजरात के वडोदरा से एक वैन 108 फुट लंबी अगरबत्ती लेकर अयोध्या पहुंच रही है, जो प्राण प्रतिष्ठा समारोह में लगाई जाएगी। सोने की फॉइल से सजाया गया एक नगाड़ा अयोध्या लाया गया। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महासचिव चंपत राय ने कहा है कि देखेंगे कि इसे मंदिर परिसर में कहां स्थापित किया जा सकता है।

About team HNI

Check Also

चुनावी मौसम में जनता को राहत, कमर्शियल गैस सिलेंडर हुआ सस्ता…

नई दिल्ली। ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने 19 किलोग्राम वाले कमर्शियल सिलेंडर की कीमत में कटौती …

Leave a Reply