सड़े हुए सिस्टम की हकीकत

  • व्यापारियों से रिश्वत लेकर ट्रकों को बिना चेकिंग करवा देते थे सीमा पार 
  • पंजाब विजिलेंस की बड़ी कार्रवाई, 12 अफसरों सहित 16 गिरफ्तार 

चंडीगढ़। शिकायतें मिलने पर पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने बड़ी कार्रवाई करते हुए आबकारी एवं कराधान विभाग के 12 उच्च अधिकारियों और चार व्यापारियों के खिलाफ मोहाली में दो मामले दर्ज किए।
पंजाब विजिलेंस ब्यूरो के मुख्य डायरेक्टर-कम-एडीजीपी बीके उप्पल ने बताया कि राज्य के आबकारी एवं कराधान विभाग के कुछ उच्च अधिकारी व्यापारियों के साथ मिलीभगत कर टैक्स चोरी में उनकी मदद कर रहे थे। इस तरह वे व्यापारियों के साथ मिलकर सरकारी खजाने को चूना लगा रहे थे। वे उनके ट्रक बिना चेंकिंग सीमा पार करवाने में भी मदद करते थे। 
उन्होंने बताया कि एक मुकदमा आबकारी एवं कराधान विभाग के डीईटीसी सिमरन बराड़, वेद प्रकाश जाखड़ ईटीओ फाजिल्का, सत्तपाल मुल्तानी ईटीओ फरीदकोट, कालीचरन ईटीओ मोबाइल विंग शंभू, वरुण नागपाल ईटीओ मुक्तसर, रवीनंदन ईटीओ फाजिल्का, प्यारा सिंह ईटीओ मोगा और विजय कुमार पराशर निवासी आदर्श कालोनी खन्ना जिला लुधियाना के खिलाफ दर्ज कराया गया है। 
इसी तरह दूसरा केस सुशील कुमार ईटीओ अमृतसर (अब पटियाला), दिनेश गौड़ ईटीओ अमृतसर, जप सिमरन सिंह ईटीओ अमृतसर, लखवीर सिंह ईटीओ मोबाइल विंग अमृतसर, राम कुमार इंस्पेक्टर, फगवाड़ा निवासी सोमनाथ, शिव कुमार और पवन कुमार के खिलाफ दर्ज कराया गया है। पंजाब पुलिस ने वरुण नागपाल, सत्तपाल मुल्तानी, कालीचरन, जपसिमरन सिंह, राम कुमार और शिव कुमार को भी इस मामले में गिरफ्तार किया है।