Friday , May 24 2024
Breaking News
Home / चर्चा में / नहीं कम हो रही क्रिकेटर मोहम्मद शमी की मुश्किलें, अब इस मामले में फंसे…

नहीं कम हो रही क्रिकेटर मोहम्मद शमी की मुश्किलें, अब इस मामले में फंसे…

अमरोहा। पत्नी हसीन जहां से कानूनी लड़ाई लड़ रहे भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी एक नए विवाद में घिर गए हैं। दिल्ली-लखनऊ नेशनल हाईवे पर करोड़ों रुपये की विवादित जमीन खरीदने के मामले में घिरे मोहम्मद शमी और मुरादाबाद के चंद्रा परिवार के लोगों पर हाईवे निर्माण के लिए अधिग्रहित जमीन का साढ़े तीन करोड़ रुपये मुआवजा हड़पने का आरोप लगा है।

विवादित जमीन खरीदने का आरोप…

मुरादाबाद के मुहल्ला बारादरी के सैफ आलम का आरोप है कि वह 2013-14 में अमेरिका में रह रहे थे। उनके स्वजन ने हाईवे स्थित लगभग 49 बीघा जमीन मुरादाबाद के चंद्रा परिवार को बेच दी। इस जमीन में करीब 14 बीघा उनका भी हिस्सा था। उनके हिस्से की जमीन बेचने के लिए फर्जी पावर आफ एटार्नी तैयार कराई गई।

2017 में डिडौली क्षेत्र के गांव सहसपुर अलीनगर के क्रिकेटर शमी ने लगभग 14 बीघा जमीन चंद्रा परिवार से खरीदी। इसकी जानकारी होने पर सैफ ने हाई कोर्ट की शरण ली। हाई कोर्ट ने 2021 में जमीन की खरीद-बिक्री पर रोक लगा दी। सैफ का कहना है कि जमीन खरीदने पर रोक होने के बाद भी शमी की पावर आफ एटार्नी के आधार पर उनके भाई मोहम्मद हसीब ने शेष बची जमीन को भी औने-पौने दामों पर खरीद लिया। इसके 20 दिसंबर 2022 और 26 दिसंबर 2022 को अलग-अलग छह बैनामे कराए गए। साथ ही शमी ने 19 फरवरी, 2022 को कुछ जमीन का 1.28 करोड़ रुपये में अपनी मां अंजुम आरा के नाम बैनामा करा दिया। सैफ ने पिछले महीने सिविल कोर्ट में हाई कोर्ट की अवमानना बताते हुए बैनामे रद्द कराने को दो मुकदमे दायर किए हैं।

शमी के भाई हसीब ने बताया कि उन्होंने 2017 में भी इस जमीन का कुछ हिस्सा खरीदा था। अब अन्य बैनामे भी कराए हैं। कहा कि उन्हें व शमी को नहीं पता कि जमीन पर कोई विवाद है या स्टे चल रहा है। मुकदमे का जवाब न्यायालय में ही दिया जाएगा।

About team HNI

Check Also

ऋषिकेश: एम्स की परीक्षा में नकल कराते दो डॉक्टर समेत पांच गिरफ्तार, ऐसे चल रहा था पूरा ‘खेल’

ऋषिकेश। देहरादून पुलिस ने ऑल इंडिया स्तर पर एम्स द्वारा आयोजित एमडी परीक्षा (इंस्टीट्यूट आफ …

Leave a Reply