Thursday , May 19 2022
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / धर्म संसद : यति और अमृतानंद ने दी शास्त्रार्थ की चुनौती, कहा- हारे तो ले लेंगे जल समाधि!

धर्म संसद : यति और अमृतानंद ने दी शास्त्रार्थ की चुनौती, कहा- हारे तो ले लेंगे जल समाधि!

हरिद्वार। यहां सर्वानंद घाट पर यूपी शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी की रिहाई के लिए बैठे महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरि और स्वामी अमृतानंद ने धर्म संसद की आलोचना करने वाले संतों को गंगाजल हाथ में लेकर शास्त्रार्थ की चुनौती दी है। इसके साथ ही ऐलान किया है कि यदि वे शास्त्रार्थ में पराजित होते हैं तो जल समाधि ले लेंगे।
वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी की रिहाई के लिये गाजियाबाद के डासना स्थित देवी मंदिर के महंत व जूना अखाड़े के महामंडलेश्वर स्वामी यति नरसिंहानंद गिरि धरने पर बैठे हैं। आज सोमवार को उन्होंने कहा कि धर्म संसद को लेकर सनातन के कुछ संत अनर्गल प्रलाप कर रहे हैं। ऐसे संत किसी न किसी राजनीतिक दल से जुड़े हुए हैं। उनकी निष्ठा धर्म के साथ नहीं बल्कि अपने राजनीतिक आकाओं के साथ है।
उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को वह और स्वामी अमृतानंद हिंदू धर्मग्रंथों रामायण, श्रीमद्भागवत के साथ ही कुरान और इस्लामिक इतिहास के आधार पर शास्त्रार्थ की चुनौती देते हैं। उन्होंने कहा कि शास्त्रार्थ हरिद्वार में मां गंगा के तट पर होगा, जिसमें यदि वह और स्वामी अमृतानंद पराजित होते हैं तो मां गंगा की गोद में जल समाधि ले लेंगे। इस शास्त्रार्थ का प्रसारण पूरी दुनिया में होगा और हिंदू समाज ही इसमें हार जीत का निर्णय करेगा। 

About team HNI

Check Also

चारधाम यात्रा-2022 का हुआ औपचारिक शुभारंभ

चारो धामों के लिए 30 वाहनों में 1200 श्रद्धालु हुए रवाना, कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल …

Leave a Reply