Friday , February 23 2024
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / प्रदेश में तेजी से बढ़ रहे आई फ्लू के केस, रोजाना दून अस्पताल पहुंच रहे 50 से अधिक मरीज, ऐसे बचें…

प्रदेश में तेजी से बढ़ रहे आई फ्लू के केस, रोजाना दून अस्पताल पहुंच रहे 50 से अधिक मरीज, ऐसे बचें…

देहरादून। राजधानी देहरादून में भी कंजेक्टिवाइटिस यानी आई फ्लू के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। देहरादून के दून मेडिकल कॉलेज में आई फ्लू के मरीजों का तांता लगा हुआ है। पूरे देश में आई फ्लू (Eye Flu) के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। बच्चों से लेकर हर उम्र के लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं। ओपीडी में रोजाना 50 से अधिक मरीज आई फ्लू जैसे लक्षणों की शिकायत लेकर पहुंच रहे हैं। आई फ्लू के मरीजों की संख्या में इजाफा देखते हुए अस्पताल प्रबंधन भी लगातार लोगों से आइसोलेट होने को कह रहा है।

नेत्र चिकित्सा विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. सुशील ओझा के मुताबिक अस्पताल की ओपीडी में आई फ्लू के मरीजों का आना जारी है। इसे आम भाषा में लाल आंख कहा जाता है। उन्होंने बताया कि यह एक तरह का वायरल इंफेक्शन होता है और विशेषकर बारिश के मौसम में वातावरण में नमी के कारण फैलता है।

एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. सुशील ओझा ने कहा कि जागरूकता अपना कर आई फ्लू बीमारी से बचा जा सकता है। एक दूसरे से हाथ ना मिलाएं, क्योंकि आई फ्लू का ट्रांसमिशन कांटेक्ट के जरिए होता है, जबकि एयर बोर्न ट्रांसमिशन कम होता है। वहीं, अगर कोई व्यक्ति ऑफिस से घर आया है या फिर स्कूल से बच्चे घर आए हैं, तो फिर साबुन से हाथ धोने की आदत डाल लें, तभी कोई दूसरा काम करें। क्योंकि यदि बाहर से हाथ में वायरस आया है तो वह साबुन के झाग से निष्क्रिय हो जाता है।

विशेषज्ञ चिकित्सकों के मुताबिक आई फ्लू का असर दो से तीन दिनों तक बना रहता है और दो से तीन दिनों में कंजेक्टिवाइटिस का असर घट जाता है। ऐसे में मरीज डॉक्टर की सलाह लेकर आंखों में ड्रॉप डालनी चाहिए, साथ ही प्रत्येक घंटे ठंडे पानी से अपनी आंखों को धोते रहें, लेकिन अगर मरीज इलाज लेने में देरी करता है तो उन मरीजों पर 15 दिन तक आई फ्लू का असर रह सकता है। आई फ्लू होने के दौरान साफ सफाई का खास ख्याल रखना है। मरीज अपनी यूज की हुई चीजों को यहां वहां ना फैलाएं. हर आधे घंटे में आंखों को ठंडे पानी से धोएं, आंखों को बार बार ना छुएं और टीवी और मोबाइल न देखें, ताकि आंखों को आराम मिल सके।

About team HNI

Check Also

सेना में अग्निवीर भर्ती के लिए आवेदन शुरू, पद नाम और चयन प्रक्रिया बदली, जानिए

Agniveer Bharti 2024 : भारतीय सेना में अग्निवीर भर्ती 2014 के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया …

Leave a Reply