Thursday , June 17 2021
Breaking News
Home / अल्मोड़ा / उत्तराखंड : इन पांच जिलों में आज होगी भारी बारिश!

उत्तराखंड : इन पांच जिलों में आज होगी भारी बारिश!

  • आज बुधवार को दून सहित प्रदेश के अधिकतर इलाकों में रुक-रुककर होती रही बारिश

देहरादून। बीते दिन मानसून के दस्तक देने के बाद आज बुधवार को भी प्रदेश अधिकतर इलाकों में रुक- रुककर बारिश होती रही। आज सुबह करीब दस बजे दून में भी रिमझिम बरसात शुरू हो गई। मसूरी में बारिश से तापमान में खासी गिरावट दर्ज की गई है। बागेश्वर, काशीपुर, रामनगर, पिथौरागढ़, लोहाघाट, अल्मोड़ा में तड़के से रुक-रुक कर बारिश हो रही है। 
मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि अगले 48 घंटों के दौरान पूरे पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में मानसून पहुंच जाएगा। इसके चलते आज बुधवार को देहरादून, टिहरी, नैनीताल, चंपावत और पिथौरागढ़ जिलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। 26 जून तक ज्यादातर क्षेत्रों में भारी बारिश हो सकती है। 25 जून को नैनीताल, पिथौरागढ़ और देहरादून में कहीं-कहीं भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है। टिहरी, रुद्रप्रयाग, चमोली, ऊधमसिंह नगर, चंपावत और बागेश्वर में चुनिंदा स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। बागेश्वर में हुई बारिश से जल भराव हो गया। यहां घरों में पानी घुस गया। बागेश्वर में सरयू नदी उफान पर है।
कालाढूंगी-हल्द्वानी मार्ग भाखड़ा जंगल में मुख्य हाईवे में विशाल पेड़ गिर गया। एक कार पेड़ की चपेट में आ गई। उसमें सवार शिक्षक बाल-बाल बचे। आवाजाही बंद होने से दोनों तरफ वाहनों की कतारें लग गई हैं। हल्द्वानी बरेली रोड, गौरा पड़ाव गौला गेट के पास उफनाई गौला के तेज बहाव में कई डंपर बह गए।
उत्तरकाशी के बड़कोट में यमुनोत्री घाटी में मंगलवार की रात हुई बारिश से एक बार फिर यमुनोत्री हाईवे अवरुद्ध हो गया।  हाईवे डबरकोट में अवरुद्ध हो गया है। यहां हाईवे जगह-जगह दलदल में तब्दील हो गया है। भारी बारिश के कारण आए मलबे से चीन सीमा को जोड़ने वाली लिपुलेख सड़क दो घंटे से अधिक समय तक बंद रही। बारिश के कारण सात आंतरिक सड़कें भी बंद हुईं, जिसमें चार सड़कों को खोल दिया गया है। 
पिथौरागढ़ जनपद में बेरीनाग में सर्वाधिक 10 एमएम बारिश हुई। डीडीहाट में 5.0, धारचूला में 0.6 और मुनस्यारी में 2.0 एमएम बारिश रिकार्ड की गई। भारी बारिश के कारण थल- हरड़िया के पास सड़क कुछ देर बंद रही, जिसे लोनिवि ने समय रहते खोल दिया। बारिश के कारण नाचनी-बांसबगड़, कोटा सामा- तेजम, सोसा-सिर्खा, तवाघाट-सोबला, मदकोट- दारमा, पौड़ी घटकूना सड़क बंद हो गई, जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।
लगातार हो रही बारिश से पिथौरागढ़ नगर की आंतरिक सड़कों में जगह-जगह गड्ढे होने से जल भराव हो रहा है। जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष मुकेश पंत ने नगर की आंतरिक सड़कों में बने गड्ढों को भरने की मांग की है।पिथौरागढ़ जिले के विभिन्न हिस्सों में हो रही बारिश के कारण नदियों का जल स्तर लगातार बढ़ रहा है। काली नदी खतरे के निशान से एक मीटर नीचे बह रही है। गोरी नदी जौलजीबी खतरे के निशान से दो मीटर नीचे बह रही है।

loading...

About team HNI

Check Also

शाबाश! निहारिका 1000 सैल्यूट

कोरोना संक्रमित ससुर को पीठ पर उठाकर दो किमी अस्पताल ले गईअपनों को कंधा न …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *