Friday , July 12 2024
Breaking News
Home / अपराध / जेपी नड्डा का निजी सचिव बनकर विधायकों को मंत्री पद दिलाने के बदले मांगता करोड़ों; ठग गिरफ्तार..

जेपी नड्डा का निजी सचिव बनकर विधायकों को मंत्री पद दिलाने के बदले मांगता करोड़ों; ठग गिरफ्तार..

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का निजी सचिव बनकर विधायकों को मंत्री बनाने का ऑफर देने वाले ठग को नागपुर पुलिस गुजरात से गिरफ्तार करके लाई है। ये शख्स खुद को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का पीए बताकर मंत्री बनाने के नाम पर विधायकों से करोड़ो रुपय मांग रहा था। इसकी शिकायत नागपुर मध्य के विकास कुमार ने पुलिस से की थी। इस ठग को नागपुर पुलिस ने अहमदाबाद के मोरबी से गिरफ्तार किया है। पकड़ा गया यह सख्त नीरज सिंह राठौर बताया जा रहा है।

नागपुर विधायक को दे रहा था मंत्री पद का ऑफर

जानकारी के अनुसार अपने आप को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष का निजी सचिव बताने वाला ये शख्स विधायकों को यह कहता था कि महाराष्ट्र में जल्द ही मंत्रिमंडल का विस्तार होने वाला है, इसलिए नए चेहरों को चुना जा रहा है। यह बात बता कर वह विधायकों के संपर्क में था। ये नागपुर के विधायक विकास कुंभारे, विधायक टेकचंद सावरकर के संपर्क में था। इसने कुंभारे को मंत्री बनाने के लिए करोड़ों रूपये की मांग की थी। विधायक विकास कुंभारे को समझ में आ गया कि फोन करने वाला कोई ठग है।

अब तक इन विधायकों को कर चुका है कॉल

कुंभारे ने नागपुर के पुलिस कमिश्नर अमितेश कुमार से मिलकर शिकायत की। अमितेश कुमार ने तुरंत नीरज की कॉल डिटेल खंगालने और लोकेशन का पता लगाने का आदेश दिए। जानकारी के अनुसार पुलिस को प्राथमिक पूछताछ में उसने बताया है कि वह कई विधायकों को कॉल कर चुका है। उसने महाराष्ट्र के विकास कुंभारे और टेकचंद सावरकर के अलावा हिंगोली के विधायक तानाजी मुटकुले, बदनापुर के विधायक नारायण कुचे और नंदुरबार के विधायक राजेश पाडवी को भी इसी तरह कॉल किया था।

गोवा, नागालैंड के विधायकों से भी किया संपर्क

ये शख्स महाराष्ट्र के अलावा गोवा, नागालैंड के 2 विधायकों के भी संपर्क में था। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी महाराष्ट्र के चार, गोवा और नागालैंड के 2 विधायकों के संपर्क में था। इसके खिलाफ नागपुर के तहसील थाने में मामला दर्ज किया गया है।

पार्टी फंड के नाम पर करोड़ों की डिमांड

अपने आप को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का निजी सचिव बताने वाले ठग नीरज सिंह राठौर ने विधायकों को मंत्री बनाने के लिए पार्टी फंड के नाम पर उसने पौने दो करोड़ रुपए की मांग की थी। उसने विधायक विकास कुंभारे को तीन बार कॉल किया था तो वहीं टेकचंद सावरकर को एक बार कॉल किया था। आरोपी को नागपुर पुलिस नागपुर लेकर आई है और उसकी जांच की जा रही है।

नकली जेपी नड्डा से कराई थी बात

नीरज में कुंभारे को प्रत्येक फोन में मंत्री पद के बदले में पार्टी फंड के लिए पैसे देने के लिए उत्सुकता जताई थी। पार्टी फंड पर वह बल देता रहा। ठग की बातों पर विधायकों को भरोसा हो, इसलिए उसने कुछ लोगों से नकली जेपी नड्डा से बात भी कराई जो उसका साथी था।

About team HNI

Check Also

पीएम मोदी के किन नेताओं को मिली हार, किसके हाथ लगी जीत, जानिए एक क्लिक में यहाँ…

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के नतीजे काफी हद तक साफ हो चुके हैं। 543 सीटों …

Leave a Reply