Thursday , June 17 2021
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / रुद्रप्रयाग : पांच माह से रूठे बदरा, सूखे के हालात

रुद्रप्रयाग : पांच माह से रूठे बदरा, सूखे के हालात

किसानों पर मौसम की मार

  • बीते वर्ष सितंबर से इस वर्ष जनवरी तक सिर्फ 78 मिमी हुई बारिश, जो सामान्य से 71 फीसद कम
  • कई गांवों में खेतों में बोए गेहूं, जौ के बीज के अंकुर भी नहीं फूटे, जिससे खेतों में अब उड़ रही धूल

रुद्रप्रयाग। करीब पांच महीने में जिले में सामान्य से 71 फीसदी बारिश कम हुई है। जिसने सूखे जैसे हालात पैदा कर दिए हैं। बीते वर्ष सितंबर से इस वर्ष जनवरी तक सिर्फ 78 मिमी बारिश हुई। जो सामान्य से 71 फीसदी कम है। गांवों में रबी की फसलें चौपट हो चुकी हैं और कई गांवों में खेतों में बोए गेहूं, जौ के बीज के अंकुर भी नहीं फूटे हैं, जिससे अब धूल उड़ रही है।
बीते वर्ष बरसात के बाद से यहां बारिश सामान्य से भी 71 फीसद कम हुई है, जिससे खेती व्यापक रूप से प्रभावित हुई है। जिससे सिंचित व असिंचित भूमि में की जा रही खेती व्यापक रूप से प्रभावित हुई है। आंकड़ों पर गौर करें तो बीते वर्ष सितंबर में कुल 52 मिमी बारिश हुई। जबकि अक्तूबर से दिसंबर तक एक बूंद पानी नहीं बरसा।
इस वर्ष अभी तक 6 व 7 जनवरी को सिर्फ 26 मिमी बारिश हुई है। हालात ये हैं कि अगस्त्यमुनि ब्लॉक के बच्छणस्यूं, रानीगढ़, धनपुर, तल्लानागपुर, जखोली के भरदार, सिलगढ़, लस्या और ऊखीमठ के केदारघाटी, कालीमठ घाटी, तुंगनाथ व मद्महेश्वर घाटी में कई गांवों में रबी की फसलें चौपट हो चुकी हैं। बारिश के अभाव में खेतों की आर्द्रता तेजी से कम हो रही है। जबकि ऊंचाई वाले गांवों में खेतों में नमी है, लेकिन रात को गिर रहा पाला फसलों को क्षति पहुंचा रहा है।
सूखे के हालात को ध्यान में रखते हुए जिलाधिकारी ने सूखा निगरानी केंद्र स्थापित कर तीन सदस्यीय समिति गठित की है। समिति द्वारा ब्लॉकवार सूखे का निरीक्षण कर एक सप्ताह में अपनी रिपोर्ट प्रशासन को सौंपी जाएगी। इसके बाद प्रभावित काश्तकारों को मुआवजा दिया जाएगा। मुख्य कृषि अधिकारी रुद्रप्रयाग एसएस वर्मा ने बताया कि बीते पांच माह में सामान्य से भी 71 फीसद बारिश हुई है, जिससे कृषि व उद्यानिकी पर व्यापक असर पड़ा है। सूखे के हालात का जायजा लेने के लिए इन दिनों टीम तीनों ब्लॉकों में निरीक्षण कर रही है। रिपोर्ट के आधार पर प्रशासन के निर्देशों के तहत कार्रवाई की जाएगी। 

loading...

About team HNI

Check Also

शाबाश! निहारिका 1000 सैल्यूट

कोरोना संक्रमित ससुर को पीठ पर उठाकर दो किमी अस्पताल ले गईअपनों को कंधा न …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *