Wednesday , May 18 2022
Breaking News
Home / उत्तरकाशी / उत्तराखंड आध्यात्मिक और सांस्कृतिक केंद्र, इसलिए यूसीसी लाएंगे : धामी

उत्तराखंड आध्यात्मिक और सांस्कृतिक केंद्र, इसलिए यूसीसी लाएंगे : धामी

  • पुरोला और आसपास के क्षेत्र को विशेष बागवानी क्षेत्र बनाने के किए जाएंगे प्रयास

पुरोला (उत्तरकाशी)। आज शुक्रवार को मोरी ब्लॉक के जखोल गांव में आयोजित बिस्सू मेले में पहुंचे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने यहां कई घोषणाएं की। आज शुक्रवार को मोरी ब्लॉक के जखोल गांव में धामी ने बिस्सू मेले का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि मां गंगा का हमारा यह राज्य एक आध्यात्मिक और सांस्कृतिक केंद्र है। इसलिए यूनिफॉर्म सिविल कोड (यूसीसी) लाना हमारा उद्देश्य है। हमने नीति और कानून विशेषज्ञों सहित एक समिति बनाने का निर्णय लिया है जो यूसीसी के संबंध में एक मसौदा तैयार करेगी।

इस मौके पर धामी ने कहा कि पुरोला और आसपास के क्षेत्र को बागवानी क्षेत्र घोषित करने के लिए सरकार काम करेगी। विकासखंड मोरी के अंतर्गत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मोरी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के रूप में उच्चीकृत किया जाएगा। पुरोला विकासखंड में बर्फिया लाल जुवांठा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को उप जिला चिकित्सा अस्पताल के रूप में उच्चीकृत किया जाएगा। विकासखंड नौगांव में स्थित बर्नीगार्ड में नए सत्र में डिग्री कॉलेज स्थापित किया जाएगा। मोरी-नेटवाड़-सांकरी-जखोल मोटर मार्ग को यथोचित योजना में शामिल कर बनाया जाएगा।

कार्यक्रम में विधायक पुरोला दुर्गेश्वर लाल, भाजपा जिला अध्यक्ष रमेश चौहान, भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर चौहान, विशु मेला समिति (जखोल) के अध्यक्ष गंगा सिंह रावत समेत बड़ी संख्या में स्थानीय लोग मौजूद रहे। वहीं सलूड़ डूंग्रा गांव में होने वाला विश्व धरोहर रम्माण मेला इस साल 27 अप्रैल को होगा। गांव के पुरोहितों ने रम्माण मेले की तिथि घोषित की है। इस बार मेले में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और पर्यटन मंत्री को भी आमंत्रित किया गया है।

About team HNI

Check Also

चारधाम यात्रा-2022 का हुआ औपचारिक शुभारंभ

चारो धामों के लिए 30 वाहनों में 1200 श्रद्धालु हुए रवाना, कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल …

Leave a Reply