Wednesday , November 30 2022
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / उत्तराखंड: विधानसभा में बैक डोर भर्ती के खिलाफ महिला कांग्रेस का प्रदर्शन

उत्तराखंड: विधानसभा में बैक डोर भर्ती के खिलाफ महिला कांग्रेस का प्रदर्शन

देहरादून। आज शनिवार का प्रदेश महिला कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ज्योति रौतेला के नेतृत्व में प्रदेश महिला कांग्रेस पदाधिकारियों ने विधानसभा में बैक डोर से हुई भर्ती का विरोध करते हुए विधानसभा के मुख्य द्वार पर सरकार का पुतला दहन करते हुए जमकर नारेबाजी की।
प्रदर्शनकारियों ने कहा कि उत्तराखंड की जनता ने आशा और विश्वास के साथ भाजपा को भारी बहुमत के साथ प्रदेश की सत्ता की कमान सौंपी थी परंतु भ्रष्टाचार मुक्त शासन का दावा करने वाली सरकार अपने चहेतों को लाभ पहुंचाने के लिए इस तरह के कृत्यों को अंजाम दे रही है। उत्तराखंड की डबल इंजन सरकार भ्रष्टाचार रोकने में पूरी तरह से विफल साबित हुई है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार नौजवानों को रोजगार मुहैया कराना तो दूर, जिन सरकारी पदों पर भर्तियां की गयी हैं, उनमें भी भारी भ्रष्टाचार तथा भाई भतीजावाद को अंजाम दिया गया है। सहकारिता विभाग में विभिन्न पदों पर हुई भर्तियों में भ्रष्टाचार एवं अनियमितता तथा भाई भतीजावाद की पहले ही पोल खुल चुकी है। सहकारी बैंकों में 61 पदों पर हुई भर्तियों में बैंक अध्यक्ष, सचिव तथा अधिकारियों ने मिलीभगत कर अपने रिश्तेदारों और चहेतों को रेवड़ी की तरह नौकरियां बांटी हैं। इन आरोपों से ऐसा प्रतीत होता है कि सहकारिता विभाग में भर्ती घोटाले को राज्य सरकार की छत्रछाया में अंजाम दिया गया है।

उन्होंने कहा कि रोजगार देने के वायदे के साथ सत्ता में आयी भाजपा ने उत्तराखंड के नौजवानें से छल करने तथा देवभूमि को कलंकित करनें का काम किया है। जिससे प्रदेश का युवा खुद को ठगा सा महसूस कर रहा है। जिस तरह से विधानसभा में बैक डोर से नियुक्तियां हुई हैं, यह कहीं न कहीं प्रदेश में अन्य भर्ती पदों पर हुए भ्रष्टाचार को भी उजागर करता है।
उन्होंने कहा कि यदि विधानसभा में बैकडोर से हुई नियुक्तियांें की निष्पक्ष जांच एवं दोषियों पर कड़ी कार्रवाई नहीं की जाती है तो महिला कांग्रेस उग्र आंदोलन करेगी। इस दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष आशा मनोरमा डोबरियाल शर्मा, राधिका शर्मा, चन्द्रकला नेगी, पुष्पा पंवार, अनुराधा तिवारी, रेखा ढींगरा, सुशीला बेलवाल शर्मा, शशिबाला, सर्वेश्वरी, शशि सेमवाल, लक्ष्मी देवी, मंजू चौहान, अंजू भारती, गायत्री, ममता शाह, बाला शर्मा आदि मौजूद रहीं।

About team HNI

Check Also

सरकार का यू टर्न : माना- रामदेव की दवाओं पर बैन यानी गलती से हुई ‘मिस्टेक’!

अब आयुर्वेद विभाग ने हटाई दिव्य फार्मेसी की पांच दवाओं के उत्पादन पर लगाई गई …

Leave a Reply