Monday , July 15 2024
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / केदारनाथ मंदिर के गर्भ गृह में लगे सोने पर विवाद, SIT जांच की उठी मांग…

केदारनाथ मंदिर के गर्भ गृह में लगे सोने पर विवाद, SIT जांच की उठी मांग…

देहरादून। केदारनाथ गर्भगृह की दीवारों पर सोने की परत का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। केदारनाथ में गर्भगृह में लगी सोने की प्लेट को लेकर चल रहे विवाद पर कांग्रेस के तेवर और आक्रामक हुए हैं। बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के पूर्व अध्यक्ष एवं कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने इस प्रकरण में भ्रष्टाचार का अंदेशा जताते हुए एसआईटी से जांच कराने की मांग की है।

गणेश गोदियाल ने मौजूदा बीकेटीसी अध्यक्ष अजेंद्र अजेय सहित धामी सरकार को इस मामले में कटघरे में खड़ा किया है। उन्होंने केदारनाथ गर्भगृह की दीवारों पर सोने की परत को लेकर फैल रही अफवाहों को लेकर बीकेटीसी अध्यक्ष पर निशाना साधा है। बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के पूर्व अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा जब गर्भगृह को स्वर्ण मंडित किया जा रहा था तब बीकेटीसी अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि दानी 230 किलो सोना दान करके केदारनाथ गर्भगृह को स्वर्ण मंडित करना चाहते हैं, लेकिन जब सोशल मीडिया पर सोने की गुणवत्ता पर सवाल उठे तब बीकेटीसी अध्यक्ष ने केवल 23 किलो सोने की बात कही। उन्होंने सवाल उठाया कि आखिर 207 किलो सोना कहां चला गया? गणेश गोदियाल ने कहा 2013-14 में जब वह बीकेटीसी के अध्यक्ष थे, तब इसी व्यापारी ने उनसे 500 किलो सोना केदारनाथ में चढ़ाने की बात कही थी, लेकिन उस दौरान हमने जब सवाल उठाए तो उन्होंने सोना दान करने से इंकार कर दिया था।

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि चार धाम स्वाभिमान का प्रश्न है। केदारनाथ मंदिर में सोने के प्रकरण पर भ्रष्टाचार का मामला गंभीर है। इसे गंभीरता से लेने के स्थान पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट से इसे मंदिर के प्रति आस्था से जोड़कर भ्रमित करना चाहते हैं। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री और शासन को इस मामले में स्पष्टीकरण देना चाहिए।

दरअसल, इससे पहले विवाद बढ़ने के बाद बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति की ओर से एक खंडन पत्र जारी करते हुए बताया गया था कि बिना तथ्यों के भ्रामक जानकारी प्रसारित की जा रही है। बीकेटीसी ने बताया था कि एक वीडियो में सोने की लागत एक अरब पंद्रह करोड़ रुपये बताई गई है, जो गलत है। केदारनाथ मंदिर के गर्भगृह में 23,777.800 ग्राम सोना लगाया गया है, जिसकी वर्तमान कीमत 14.38 करोड़ रुपये है। वहीं, स्वर्ण जड़ित कार्य के लिए इस्तेमाल कॉपर की प्लेटों का कुल वजन 1,001.300 किलोग्राम है और उनकी कीमत 29 लाख रुपये है। मंदिर समिति ने भ्रामक जानकारी फैलाने पर नियमानुसार विधिक कार्रवाई करने की बात भी कही थी।

About team HNI

Check Also

पीएम मोदी के किन नेताओं को मिली हार, किसके हाथ लगी जीत, जानिए एक क्लिक में यहाँ…

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के नतीजे काफी हद तक साफ हो चुके हैं। 543 सीटों …

Leave a Reply