• उत्तराखंड में अभी तक सबसे ज्यादा मौतें और सबसे ज्यादा संक्रमित देहरादून जिले के नाम

देहरादून। यहां आज रविवार को राजकीय दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित एक और मरीज की मौत हो गई। मरीज के शव को परिजनों को सौंप कर अंतिम संस्कार कराए जाने की तैयारी चल रही है।
दून अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार देहरादून के आश्रम के 73 वर्षीय बुजुर्ग सेवक को सांस में तकलीफ होने पर परिजनों ने 29 जुलाई को दून अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां विशेषज्ञ डॉक्टरों की देखरेख में उनका उपचार चल रहा था। सांस लेने में ज्यादा दिक्कत होने के चलते मरीज को आईसीयू में भर्ती कराया गया था। लगभग 10 दिन की डॉक्टरों की मेहनत के बावजूद बुजुर्ग को नहीं बचाया जा सका। बुजुर्ग ने रविवार को आईसीयू में अंतिम सांस ली। कोरोना के स्टेट को-ऑर्डिनेटर एवं दून अस्पताल के डिप्टी एमएस डॉ. एनएस खत्री ने बुजुर्ग कोरोना संक्रमण से कोरोना संक्रमित बुजुर्ग की मौत की पुष्टि की है। इसके बाद अब प्रदेश में मृतक संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 118 पहुंच गया है। 
देहरादून जिले में मरीजे वालों की संख्या सबसे ज्यादा
देहरादून जिले की बात करें तो यहां अब प्रतिदिन 50 से अधिक संक्रमित मरीज आ रहे हैं। मौत का आंकड़ा भी लगातार बढ़ रहा है। बीते एक सप्ताह में जिले में कोरोना संक्रमित 23 लोगों की मौत हो चुकी है। प्रदेश में अभी तक सबसे ज्यादा मौतें और सबसे ज्यादा संक्रमित देहरादून जिले में आए हैं। 31 जुलाई को देहरादून जिले में कोरोना संक्रमित लोगों की मौत का आंकड़ा 44 था। शनिवार दोपहर तक यह आंकड़ा 67 तक पहुंच गया। इनमें चार पीड़ितों की मौत 18 घंटे के भीतर हुई। प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी अस्पतालों में शुमार राजकीय दून मेडिकल अस्पताल में मरने वालों की संख्या सबसे अधिक हैं।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. बीसी रमोला ने बताया कि कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सभी निजी और सरकारी अस्पतालों को लगातार दिशा निर्देश जारी किए जा रहे हैं। साथ ही आम लोगों से भी अपील की जा रही है कि सोशल डिस्टेंसिंग और समय-समय पर जारी किए जा रहे दिशा-निर्देशों का पालन करें।