Monday , August 2 2021
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / कोरोना पर भाजपा ने कांग्रेस पर दागे सात सवाल

कोरोना पर भाजपा ने कांग्रेस पर दागे सात सवाल

देहरादून। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंसी धर भगत द्वारा कांग्रेस को कोरोना से अधिक ख़तरनाक बताए जाने पर कांग्रेस की आपत्ति पर भाजपा ने कांग्रेस से सात सवाल पूछे हैं।
भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ देवेन्द्र भसीन ने एक बयान में कहा कि जहाँ पूरा देश कोरोना महामारी के ख़िलाफ़ पूरी शक्ति से लड़ रहा है वहीं कांग्रेस द्वारा इस लड़ाई को कमजोर करने की जो कोशिश हो रही है वह बहुत ख़तरनाक है। ऐसे में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष द्वारा कांग्रेस क़ो कोरोना से अधिक घातक बताया जाना बिल्कुल सही है।
डॉ भसीन ने कहा कि कांग्रेस हमारे सवालों का जवाब दे कर देश व प्रदेश को बताए कि कोरोना के ख़िलाफ़ जंग में उसका क्या रचनात्मक योगदान है !

उन्होंने कांग्रेस से सात सवाल करते हुए पूछा –

  1. कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष व प्रदेश अध्यक्ष द्वारा पलायन कर रहे मज़दूरों को उनकी घोषणा के अनुरूप रेल किराया या टिकट दिए जाने थे जो किसी मजदूर को नहीं दिए गए, क्यों?
  2. रेल किराया न देने की स्थिति में कांग्रेस को उत्तराखंड सरकार सहित विभिन्न सरकारों के पास किराए की राशि जमा करानी चाहिए थी लेकिनधेला भी जमा नहीं कराया गया,क्यों
  3. कांग्रेस ने प्रधानमंत्री रिलीफ़ फंड का हिसाब तो माँगा किंतु एक पैसा भी दान में नहीं दिया,क्यों ?
  4. उत्तराखंड में मुख्यमंत्री राहत कोष का विवरण माँगने वाली कांग्रेस ने इस कोष में भी एक पैसा जमा नहीं कराया,क्यों?
  5. देश में मज़दूरों को भ्रमित कर पलायन करने के लिए भड़काने का षड्यंत्र रचा, क्यों?
  6. राहुल गांधी को यह पता नहीं कि महाराष्ट्र में कांग्रेस भी सरकार में है और उन्होंने महाराष्ट्र के हालात की जिम्मेदारी से ही पल्ला झाड़ लिया,क्यों?
  7. देश व प्रदेश में रोज़ भ्रामक बयान देने वाले बयान बहादुर कांग्रेस नेता जनता की सेवा से दूर भागते हैं,क्यों?

डॉ भसीन ने कहा कि कोरोना काल में भी लाशों व महामारी पर राजनीति से बाज नहीं आ रही कांग्रेस वास्तव में कोरोना से अधिक खतरनाक है, इसमें कोई संदेह है ही नहीं।

About team HNI

Check Also

दून विवि में हुई अंबेडकर चेयर की स्थापना

राज्यपाल, मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री ने कार्यक्रम में किया प्रतिभाग देहरादून। आज शुक्रवार को राज्यपाल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *