Friday , May 24 2024
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / उत्तराखंड वन विभाग में होगा बड़ा फेरबदल, 2 दर्जन से ज्यादा अफसरों की बदलेगी जिम्मेदारी

उत्तराखंड वन विभाग में होगा बड़ा फेरबदल, 2 दर्जन से ज्यादा अफसरों की बदलेगी जिम्मेदारी

देहरादून: उत्तराखंड में वन विभाग के बड़े अधिकारियों में बड़ा फेरबदल होने जा रहा है। जिसमें कई महत्वपूर्ण पदों पर बदलाव दिखाई देगा। खास तौर पर गढ़वाल चीफ से लेकर मसूरी और देहरादून के डीएफओ भी बदले जा रहे हैं।

आईएफएस अफसरों के होंगे तबादले: हाल ही में सिविल सर्विस बोर्ड की बैठक मुख्य सचिव डॉ एसएस संधू की अध्यक्षता में सचिवालय परिसर में अधिकारियों की नई सूची को लेकर चिंतन किया गया। खबर है कि अगले 1 से 2 दिनों में करीब 15 से 20 आईएफएस अधिकारियों की तबादले से जुड़ी सूची जारी होगी। इसमें सबसे महत्वपूर्ण पद के रूप में गढ़वाल चीफ के तौर पर नए अधिकारी को जिम्मेदारी मिलने जा रही है।

किसे मिलेगी क्या जिम्मेदारी: सूत्रों की मानें तो मुख्य वन संरक्षक गढ़वाल के पद पर नरेश कुमार को जिम्मेदारी मिल सकती है। नरेश कुमार फिलहाल वन विभाग में ईको टूरिज्म की जिम्मेदारी देख रहे हैं। उधर मुख्य वन संरक्षक गढ़वाल के तौर पर काम कर रहे सुशांत पटनायक को प्रतिनियुक्ति पर पर्यावरण विभाग में सदस्य सचिव की जिम्मेदारी मिलने के बाद से ही नए चेहरे को लेकर तलाश शुरू कर दी गई थी।

हो सकते हैं ये बदलाव: वन विभाग में होने वाले तबादलों में देहरादून के डीएफओ नीतीश मणि त्रिपाठी को भी हटाया जा रहा है। इसके अलावा मसूरी के डीएफओ को हटाकर किसी और को इस पद के लिए जिम्मेदारी दी जाएगी। गंगोत्री राष्ट्रीय पार्क से भी उपनिदेशक को हटाए जाने की चर्चा है. जिसके लिए नए चेहरे को भी तलाश लिया गया है। जैव विविधता बोर्ड से राजीव भरतरी के रिटायर होने के बाद से ही खाली पड़े चेयरमैन के पद को भी इस सूची में भरा जाएगा। जानकारी के अनुसार धनंजय मोहन को इसकी जिम्मेदारी मिलने जा रही है। बताया जा रहा है कि युवा आईएफएस अधिकारी दीपक सिंह को भी काफी अहम जिम्मेदारी मिल सकती है। यही नहीं कॉर्बेट में निदेशक रहे राहुल को बम्बू बोर्ड में नई जिम्मेदारी दिए जाने की चर्चा है।

About team HNI

Check Also

ऋषिकेश: एम्स की परीक्षा में नकल कराते दो डॉक्टर समेत पांच गिरफ्तार, ऐसे चल रहा था पूरा ‘खेल’

ऋषिकेश। देहरादून पुलिस ने ऑल इंडिया स्तर पर एम्स द्वारा आयोजित एमडी परीक्षा (इंस्टीट्यूट आफ …

Leave a Reply