Tuesday , September 28 2021
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / उत्तराखंड : मलारी हाईवे 10वें दिन भी बंद, परेशान ग्रामीणों ने निकाला जुलूस

उत्तराखंड : मलारी हाईवे 10वें दिन भी बंद, परेशान ग्रामीणों ने निकाला जुलूस

चमोली। जिले में चीन सीमा से जाेड़ने वाला मलारी हाईवे दसवें दिन भी ठप है। हाईवे बंद होने से नीती घाटी के 16 गांवों के करीब 400 परिवार अपने गांवों में ही कैद हैं। वहीं 10 दिन बाद भी मलारी हाईवे न खुलने के बाद आज सोमवार को नीती घाटी के ग्रामीणों ने जुलूस निकाला। जिसके बाद प्रदर्शनकारी तहसील परिसर में ठाकुर सिंह राणा ने आमरण अनशन शुरू कर दिया। हालांकि नीती घाटी में कोहरा होने के कारण अभी तक हेली रेस्क्यू शुरू नहीं हो पाया है।
मौके पर मौजूद जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी नंद किशोर जोशी ने बताया कि चट्टान से फिलहाल पत्थरों का छिटकना बंद है। बीआरओ की जेसीबी मशीनें हाईवे को खोलने में जुट गई हैं। नीती घाटी के ग्रामीणों की आवाजाही के लिए प्रभावित क्षेत्र में पैदल रास्ता भी बना लिया गया है। एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की टीमें ग्रामीणों को सुरक्षित आवाजाही करा रहीं हैं।
उन्होंने बताया कि यदि मौसम ने साथ दिया तो मंगलवार तक हाईवे को सुचारु कर लिया जाएगा। बदरीनाथ हाईवे सुचारू है। रविवार रात को चमोली जनपद में बारिश हुई। हालांकि आज सोमवार को फिलहाल मौसम सामान्य बना हुआ है। उधर चमोली जनपद में भूस्खलन से अभी भी सात संपर्क मोटर मार्ग अवरूद्ध हैं। वहीं रविवार देर शाम तक बीआरओ ने नीती घाटी के 50 ग्रामीणों को पैदल रास्ते से आवाजाही कराकर गंतव्य को भेजा।

About team HNI

Check Also

गढ़वाल आयुक्त ने ऋषिकेश यात्रा प्रशासन संगठन कार्यालय सहित चारधाम यात्रा, श्री हेमकुंड जी यात्रा हेतु ब्यवस्थाओं का जायजा लिया

• ऋषिकेश में पार्किंग हेतु चंद्रभागा नदी के किनारे खाली क्षेत्र को चिह्नित करने हेतु …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *