Friday , May 24 2024
Breaking News
Home / चर्चा में / Nipah Virus को लेकर इस राज्य में अलर्ट जारी, अब तक दो लोगों की मौत, जानें कितना खतरनाक है ये वायरस…

Nipah Virus को लेकर इस राज्य में अलर्ट जारी, अब तक दो लोगों की मौत, जानें कितना खतरनाक है ये वायरस…

केरल। दक्षिणी राज्य केरल में एक बार फिर निपाह वायरस फैलने का डर सताने लगा है। कोझिकोड जिले में संक्रमण के कारण दो संदिग्ध मौतों के बाद राज्य सरकार ने स्वास्थ्य अलर्ट जारी किया है। केरल के स्वास्थ्य विभाग ने जानकारी दी है कि राज्य सरकार निपाह वायरस (Nipah Virus) को लेकर बेहद अलर्ट है और राज्य में दो लोगों की मौत के बाद बढ़ते संक्रमण को देखते हुए स्थिति की लगातार समीक्षा की जा रही है।

स्वास्थ्य विभाग अलर्ट पर…

बुखार से दो मौतें होने के बाद स्वास्थ्य विभाग अलर्ट पर है। स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज ने बताया कि निगरानी शुरू कर दी है और मृतकों के सैम्पल जांच के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के पास भेज दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि मृतकों के रिश्तेदार भी अस्पताल में भर्ती हैं। उन्होंने बताया कि एक 9 साल और एक 4 साल की बच्चे की मौत हुई है। इन दोनों के रिश्तेदार निजी अस्पताल में इलाज करवा रहे हैं। उन्होंने ये भी बताया कि जिला स्तर पर स्वास्थ्य विभाग की टीम को अलर्ट पर रहने को कहा गया है. साथ ही कोझिकोड मेडिकल कॉलेज में आइसोलेशन फैसिलिटी बनाने का आदेश भी दिया गया है. फिलहाल दोनों मृतकों के शवों को मॉर्चुरी में रखा गया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

जानवरों से फैलता है निपाह वायरस…

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार, निपाह वायरस एक जूनोटिक वायरस है. यानी ये जानवरों के जरिए इंसानों में फैलता है। कई बार ये खाने-पीने के जरिए और इंसान से इंसान में भी फैल सकता है। निपाह का सबसे पहला मामला 1999 में मलेशिया के एक गांव सुनगई निपाह में सामने आया था। इसी कारण इस वायरस का नाम निपाह रखा गया है।

कैसे फैलता है ये वायरस…

कई वायरस की तरह ही निपाह का सोर्स भी जानवर को ही माना जाता है। माना जाता है कि चमगादड़ के जरिए ये वायरस इंसानों तक फैलता है। हालांकि, ऐसा भी मानना है कि ये सुअर, कुत्ते, बिल्ली, घोड़े और संभवतः भेड़ से भी फैल सकता है. अगर निपाह वायरस से कोई व्यक्ति संक्रमित हो गया है तो वो दूसरों को भी संक्रमित कर सकता है। मतलब, एक की वजह से दूसरे लोग भी संक्रमित हो सकते हैं।

कितना खतरनाक है निपाह वायरस…

निपाह वायरस को कम संक्रामक लेकिन ज्यादा घातक माना जाता है. इसका मतलब हुआ कि इससे संक्रमित तो कम लोग हो सकते हैं, लेकिन मृत्यु दर ज्यादा होती है. केरल में जब एक बार निपाह वायरस फैला था तो इसकी मृत्यु दर 45 से 70 फीसदी तक थी। इतना ही नहीं, अगर किसी शख्स की निपाह वायरस से मौत हुई है तो उस परिवार के दूसरे सदस्य भी इससे संक्रमित हो सकते हैं। ऐसे में निपाह संक्रमित व्यक्ति का अंतिम संस्कार करते समय खास सावधानी बरतनी जरूरी होती है।

निपाह वायरस के लक्षण क्या हैं…

अगर कोई भी शख्स निपाह वायरस से संक्रमित होगा तो उसमें तेज बुखार, सिरदर्द, सांस लेने में तकलीफ,गले में खराश, एटिपिकल निमोनिया जैसे लक्षण दिखाई पड़ेंगे। वहीं अगर स्थिति ज्यादा गंभीर रही तो इंसान इन्सेफेलाइटिस का भी शिकार हो सकता है और 24 से 48 घंटे में कोमा में जा सकता है।

About team HNI

Check Also

ऋषिकेश: एम्स की परीक्षा में नकल कराते दो डॉक्टर समेत पांच गिरफ्तार, ऐसे चल रहा था पूरा ‘खेल’

ऋषिकेश। देहरादून पुलिस ने ऑल इंडिया स्तर पर एम्स द्वारा आयोजित एमडी परीक्षा (इंस्टीट्यूट आफ …

Leave a Reply