Friday , May 24 2024
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / दिल्ली से देहरादून के बीच चलेगी वंदे भारत एक्सप्रेस! जानिए क्या होगा रूट, किराया और टाइमिंग…

दिल्ली से देहरादून के बीच चलेगी वंदे भारत एक्सप्रेस! जानिए क्या होगा रूट, किराया और टाइमिंग…

देहरादून: दिल्ली से जल्द ही एक और वंदे भारत एक्सप्रेस चलाने की तैयारी है। 15 फरवरी, 2019 को देश की पहली स्वदेशी वंदे भारत एक्सप्रेस को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वाराणसी से नई दिल्ली के लिए रवाना किया था। देश में फिलहाल 15 वंदे भारत का परिचालन किया जा रहा है। खबरों के मुताबिक, अगले महीने से दिल्ली और उत्तराखंड के देहरादून के बीच वंदे भारत का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा। इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है।

वंदे भारत के शुरू हो जाने से उत्तराखंड जाने वाले यात्रियों के लिए एक लग्जरी ट्रेन मिल जाएगी। साथ ही तीर्थ स्थलों की ओर जाने वाले लोग भी इस ट्रेन का आनंद ले सकेंगे। दिल्ली-देहरादून रूट भारत के कुछ सबसे बेहतरीन पर्यटन रूट्स में शामिल है। दिल्ली-देहरादून के बीच अभी भी कई ट्रेनें चलती हैं लेकिन उनका ट्रैवल टाइम थोड़ा ज्यादा है। वंदे भारत के चालू हो जाने से यह सफर कम समय में पूरा किया जा सकेगा। दिल्ली-देहरादून का सफर 315 किलोमीटर का है। जिसे पूरा करने में वंदे भारत करीब 5 घंटे का समय लेगी।

कहां-कहां होगा स्टॉपेज
ट्रेन कहां-कहां रुकेगी इसके बारे में कोई आधिकारिक जानकारी उपलब्ध नहीं है। हालांकि, कयास लग रहे हैं कि कुछ बड़े स्टेशनों पर इसका स्टॉप होगा। यह ट्रेन दिल्ली से चलकर उत्तर प्रदेश से होते हुए देहरादून उत्तराखंड पहुंचेगी। इस बीच मेरठ, मुजफ्फरनगर, रुड़की और हरिद्वार में इसका स्टॉप हो सकता है। इस तरह से दिल्ली-देहरादून वंदे भारत बीच में 4 स्टेशनों पर रुकेगी। इससे हरिद्वार व उत्तराखंड के अन्य पर्यटक स्थलों पर पहुंचने में लोगों को आसानी होगी।

क्या होगी टाइमिंग
यह ट्रेन करीब 5 घंटे में अपना सफर तय करेगी। रिपोर्ट्स के अनुसार, यह ट्रेन दिल्ली से शाम 5 बजे निकलेगी और करीब 10 बजे रात को देहरादून पहुंच जाएगी। यही ट्रेन सुबह 8 बजे देहरादून से चलेगी और दोपहर 1 बजे तक दिल्ली पहुंच जाएगी।

क्या होगा किराया?
दिल्ली-देहरादून वंदे भारत में एसी चेयरकार में एक तरफ का टिकट 915 रुपये का होने की उम्मीद है। वहीं, एग्जीक्यूटिव चेयरकार की टिकट 1425 रुपये की हो सकती है। इस रूट पर वंदे भारत की टिकट अन्य रूट्स के मुकाबले कम होने की उम्मीद है क्योंकि यह यह रूट बाकियों के मुकाबले छोटा होगा।

अगले तीन वर्षों में कुल चार सौ वंदे भारत ट्रेनें चलाने की योजना है। आम बजट में भी इस स्वदेशी ट्रेनों की संख्या बढ़ाने और इसके लिए आधारभूत ढांचा उपलब्ध कराने की घोषणा की गई है। इन ट्रेनों के रखरखाव पूरे देश में नौ डिपो बनाने का फैसला किया गया है। इनमें से तीन डिपो दिल्ली में बनेंगे। आनंद विहार, बिजवासन, शकूर बस्ती में वंदे भारत रखरखाव डिपो बनाने का प्रस्ताव है।

About team HNI

Check Also

ऋषिकेश: एम्स की परीक्षा में नकल कराते दो डॉक्टर समेत पांच गिरफ्तार, ऐसे चल रहा था पूरा ‘खेल’

ऋषिकेश। देहरादून पुलिस ने ऑल इंडिया स्तर पर एम्स द्वारा आयोजित एमडी परीक्षा (इंस्टीट्यूट आफ …

Leave a Reply