Friday , May 20 2022
Breaking News
Home / अपराध / हैवान थानेदार ने गैंगरेप पीड़िता किशोरी से थाने में ही किया बलात्कार

हैवान थानेदार ने गैंगरेप पीड़िता किशोरी से थाने में ही किया बलात्कार

ललितपुर। सामूहिक दुष्कर्म का शिकार हुई एक किशोरी के साथ पाली के हैवान थानाध्यक्ष ने थाना परिसर में बने अपने कमरे में ले जाकर दुष्कर्म किया। किशोरी को बयान दर्ज कराने के नाम पर बुलाया गया था। एसओ के कहने पर किशोरी की मौसी ही उसे थाने में लेकर पहुंची थी।
चाइल्ड लाइन में काउंसलिंग के बाद घटना का खुलासा हुआ। एसपी ने थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया है। एसओ समेत चार युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।
कानपुर जोन के एडीजी भानु भास्कर ने दुष्कर्म मामले में एसओ की संलिप्तता के बाद पूरे पाली थाने को लाइन हाजिर कर दिया। बुधवार सुबह एडीजी ने यह आदेश जारी किया। उन्होंने डीआईजी जोगेंद्र कुमार को पूरे मामले की जांच सौंपते हुए 24 घंटे के भीतर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं। थाने के जो स्टाफ लाइन हाजिर किए गए हैं उनमें 6 एसआई, 6 हेड कांस्टेबल, 10 आरक्षी, 5 महिला आरक्षी, 1 चालक और 1 फालोवर शामिल हैं।
नाबालिग से दुष्कर्म के बाद फरार पाली थाने के पूर्व एसओ तिलकधारी सरोज की तलाश में डीआईजी जोगेंद्र कुमार ने तीन पुलिस टीमें गठित की हैं। आरोपी दरोगा की तलाश में सर्विलांस टीम भी लगी है। उसकी तलाश में प्रयागराज के गंगापार इलाके में देर रात दबिश दी गई। परिवार के लोगों से भी पूछताछ की जा रही है। डीआईजी का कहना है आरोपी दरोगा की जल्द गिरफ्तारी की जाएगी। उधर मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए डीआईजी जोगेंद्र कुमार ललितपुर में कैंप कर रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आने की सूचना पर पुलिस सुरक्षा भी वहां बढ़ा दी गई है। अखिलेश यादव को पीड़िता से मिलने देने की इजाजत को लेकर संशय बना हुआ है।
किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में डीआईजी ने एसपी झांसी विवेक त्रिपाठी को जांच में लगाया है। वह बुधवार को जिला अस्पताल पहुंचे और किशोरी और आरोपी महिला से पूछताछ की।
थाना पाली अंतर्गत एक मोहल्ला निवासी 13 वर्षीय किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म की षड्यंत्रकारी आरोपी महिला को भी गिरफ्तार किया गया। पुलिस महिला को लेकर जिला अस्पताल पहुंची जहां उसकी डॉक्टरी जांच करा रही है। आरोपी महिला से भी एसपी झांसी ने पूछताछ की है। इससे पहले किशोरी का डॉक्टरी परीक्षण कराया गया। पुलिस ने इस घटना में अब महिला सहित तीन आरोपी गिरफ्तार कर लिए हैं। वहीं निलंबित आरोपी थानाध्यक्ष समेत तीन लोग फरार चल रहे है।
ललितपुर में सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता से थाने में दुष्कर्म के मामले में सियासत गरमाने लगी है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पीड़ित परिवार से मिलने आ रहे हैं। वह लखनऊ से चल दिए हैं, दोपहर तक पाली पहुंच जाएंगे। किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में पुलिस ने राजभान पुत्र दयाली अहिरवार और महेंद्र चौरसिया पुत्र जगन्नाथ चौरसिया को बीती रात गिरफ्तार कर लिया। दोनों आरोपियों से पुलिस ने रात में पूछताछ की सुबह उन्हें कोर्ट में पेश किया जा रहा है। इधर आरोपियों से पूछताछ में मिली जानकारियों के बाद डीआईजी बुधवार को फिर थाना पाली पहुंच रहे हैं। पुलिस आरोपी निलंबित एसओ तिलकधारी सरोज की तलाश में जुटी हुई है।

About team HNI

Check Also

रुद्रप्रयाग : श्रद्धालुओं के लिए खुले द्वितीय केदार भगवान मदमहेश्वर के कपाट

रुद्रप्रयाग। द्वितीय केदार भगवान मदमहेश्वर मंदिर के कपाट आज सुबह 11 बजे विधि-विधान के साथ …

Leave a Reply