Wednesday , November 30 2022
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / धामी के अचानक दिल्ली दौरे से गरमाई सियासत!
फाइल फोटो

धामी के अचानक दिल्ली दौरे से गरमाई सियासत!

देहरादून। आज मंगलवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अचानक दिल्ली रवाना हो गये। हालांकि अभी साफ नहीं हुआ है कि धामी दिल्ली क्यों गए हैं, लेकिन दिल्ली जाने को लेकर कयासबाजी का दौर शुरू हो गया है।
उल्लेखनीय है कि आजकल प्रदेश में अंकिता भंडारी मर्डर केस को लेकर लोगों में गम और गुस्सा बरकरार है। इस हत्याकांड का मुख्य आरोपी पुलकित आर्य है जो भाजपा नेता विनोद आर्य का बेटा है। विनोद आर्य उत्तराखंड सरकार में राज्य मंत्री भी रह चुके हैं। वह भाजपा ओबीसी मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य थे और यूपी के सह-प्रभारी भी थे। विनोद आर्य का बड़ा बेटा अंकित आर्य भी दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री था और राज्य पिछड़ा आयोग में उपाध्यक्ष भी था। अंकिता हत्याकांड के बाद भाजपा ने दोनों बाप बेटों को पार्टी से निष्कासित कर दिया है।
अंकिता हत्याकांड के आरोपी पुलकित आर्य, अंकित गुप्ता और सौरभ भास्कर न्यायिक हिरासत में हैं। वहीं यह हत्याकांड भाजपा नेता से जुड़ा होने के कारण मामला और गर्माया है। इसके अलावा विधानसभा में बैक डोर से भर्ती और यूकेएसएसएससी भर्ती घोटालों को लेकर सरकार की खूब किरकिरी हो रही है। इसके बावजूद बैक डोर भर्ती के ‘सरताज‘ प्रेमचंद अग्रवाल का बचाव करने के कारण मुख्यमंत्री की नीयत पर भी सवाल उठाए जा रहे हैं।
इनके अलावा उत्तराखंड में मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चाएं तेज हैं। राज्य में मुख्यमंत्री सहित अधिकतम 12 मंत्री हो सकते हैं। वर्तमान में यह संख्या नौ ही है। जिससे कयास लगाए जा रहे हैं कि नवरात्रि के बाद सीएम पुष्कर सिंह धामी मंत्रिमंडल का विस्तार कर सकते हैं, जिसमें कुछ नए चेहरे देखने को मिल सकते हैं। इसलिये धामी के दिल्ली दौरे को लोग इससे भी जोड़कर देख रहे हैं।

About team HNI

Check Also

सरकार का यू टर्न : माना- रामदेव की दवाओं पर बैन यानी गलती से हुई ‘मिस्टेक’!

अब आयुर्वेद विभाग ने हटाई दिव्य फार्मेसी की पांच दवाओं के उत्पादन पर लगाई गई …

Leave a Reply