Wednesday , May 29 2024
Breaking News
Home / उत्तराखण्ड / उत्तराखंड: खेलते-खेलते लापता हो गए तीन नाबालिग दोस्त, पांच दिन बाद भी नहीं लगा कोई सुराग 

उत्तराखंड: खेलते-खेलते लापता हो गए तीन नाबालिग दोस्त, पांच दिन बाद भी नहीं लगा कोई सुराग 

हल्द्वानी। बनभूलपुरा थाना क्षेत्र के रहने वाले तीन नाबालिग दोस्त खेलते खेलते अचानक लापता हो गए। परिवार वालों ने काफी ढूंढ-खोज की, लेकिन उनका पता नहीं चला। परिवार वालों ने पुलिस में तीनों दोस्तों के लापता होने की गुमशुदगी दर्ज कराई है।

मिली जानकारी के अनुसार तीनों नाबालिग रविवार से लापता है। जिनकी पहचान दीपेश (13) पुत्र सेवक राम, रोहित (12) पुत्र विनय और शेखर (12) पुत्र धर्मेंद्र वार्ड 14 जवाहरनगर बनभूलपुरा के रहने वाले हैं। दिपेश आठवीं और रोहित, शेखर कक्षा सात में पढ़ते हैं। परिजनों के मुताबिक तीनों अच्छे दोस्त हैं।

परिजनों के मुताबिक तीनों रविवार दोपहर मोहल्ले में खेल रहे थे। इसके बाद दोपहर में तीनों अचानक लापता हो गए। देर शाम तक उनके नहीं लौटने पर पुलिस को सूचना दी गई। परिवार वालों ने तीनों दोस्तों को काफी ढूंढा लेकिन उनका कहीं पता नहीं चला। जिसके बाद परिवार वालों ने बनभूलपुरा थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करायी है।

पुलिस की प्राथमिक जांच में तीनों दोस्त एक साथ सीसीटीवी में देखे गए। फुटेज में रोहित के कंधे पर एक बैग टंगा नजर आया। वह घर से तीन सौ रुपये भी ले गया है। बनभूलपुरा थानाध्यक्ष नीरज भाकुनी का कहना है कि तीनों की तलाश की जा रही है। तीनों दोस्तों की अंतिम बार सीसीटीवी में लोकेशन रेलवे स्टेशन रोड पर दिखाई दे रही है।

पुलिस का कहना है कि तीनों किशोरों को ढूंढने के लिए पुलिस की टीम लगाई गई है। जल्द तीनों किशोरों को ढूंढ लिया जाएगा। तीनों दोस्तों के लापता होने के बाद से परिवार परेशान हैं। परिवार वालों ने पुलिस से जल्द से जल्द खोज करने की गुहार लगाई है।

About team HNI

Check Also

ऋषिकेश: एम्स की परीक्षा में नकल कराते दो डॉक्टर समेत पांच गिरफ्तार, ऐसे चल रहा था पूरा ‘खेल’

ऋषिकेश। देहरादून पुलिस ने ऑल इंडिया स्तर पर एम्स द्वारा आयोजित एमडी परीक्षा (इंस्टीट्यूट आफ …

Leave a Reply