सरायकेला-खरसांवा (झारखंड)।बच्चा चोरों के गांव में घुस अाने की अफवाह पर लोगों ने चार लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी। इनमें से एक युवक काफी देर तक लोगों से अपनी जान बख्श देने की गुहार लगाता रहा। पर भीड़ ने उसकी एक ना सुनी और हत्या कर दी। घटना गुरुवार को जमशेदपुर से लगभग 40 किलोमीटर दूर राजनगर की है।

-लोगों ने इनकी एक इंडिका कार को भी अाग के हवाले कर दिया। इस घटना की सूचना पाकर पहुंची पुलिस की भी ग्रामीणों से हिंसक झड़प हो गई।
-स्थानीय लोगों ने बताया कि गुरुवार की सुबह तीन बजे इंडिका और जायलो कार से लगभग 8 लोग शोभापुर गांव पहुंचे थे। शोभापुर से सटे गोपीनाथपुर के ग्रामीणों को इनकी गतिविधियां संदिग्ध देखीं।
-इसके बाद गोपीनाथपुर और कमलपुर गांव में शोर हुआ कि बच्चा चोर गांव आए हुए हैं। दर्जनों लोग पारंपरिक हथियारों से लैस होकर एक स्थानीय ग्रामीण के घर पहुंचे। उसके घर की तलाशी ली।
-इस बीच जायलो गाड़ी पर सवार लोग किसी तरह गांव से भाग निकले, जबकि इंडिका कार में सवार 4 लोग गाड़ी छोड़कर आसपास छिप गए।
-एक व्यक्ति पास के शौचालय में छिपा हुआ था, जिसे ग्रामीणों ने पकड़ लिया और उसकी पीट-पीटकर हत्या कर दी। बाद में गांव में छिपे 3 अन्य लोगों की भी ग्रामीणों ने हत्या कर दी।
-आक्रोशित लोगों ने मौके पर पहुंचे थाना प्रभारी तिलेश्वर कुशवाहा की सरकारी गाड़ी में भी आग लगा दी। थाना प्रभारी समेत पांच अन्य पुलिसकर्मी घायल हो गए।
-घटना के बाद से इलाके में तनाव है। एसपी राकेश बंसल के आदेश पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया हैं।